हेमंत सरकार ने गरिमा खत्म कर दी, विदाई तयः सुदेश कुमार महतो

0

झारखंड अपना परिचय खो रहा, बिगड़े हालात से उबारना है
• पतरातू में आजसू केंद्रीय समिति की बैठक सह शपथ ग्रहण समारोह में पदाधिकारियों को किया लामबंद

PATRATU/RANCHI: आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने कहा है कि हेमंत सरकार ने अपनी गरिमा खत्म कर दी है।

इस साल सरकार की विदाई तय है। राज्य अपना परिचय खो रहा है।

इस बिगड़े हालात से राज्य को उबारने की बड़ी जिम्मेदारी आजसू पार्टी पर है।

पतरातू लेक रिसोर्ट में आयोजित पार्टी की केंद्रीय समिति की बैठक सह शपथ ग्रहण समारोह में आजसू प्रमुख ने ये बातें कही।

पार्टी के महाधिवेशन के बाद गठित नई केंद्रीय समिति की बैठक सह शपथ ग्रहण समारोह में सुदेश कुमार महतो ने सरकार के कार्यकलाप पर जमकर हमला बोला।

साथ ही पार्टी के पदाधिकारियों को उनकी जवाबदेही से आगाह कराते हुए कहा कि सत्ता का दुरूपयोग करने वाली सरकार को सत्ता से बेदखल करने की बड़ी जिम्मेदारी आजसू पर है।

शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय समिति, केंद्रीय कार्यकारिणी समेत सभी ईकाई के छह सौ पदाधिकारी शमिल हुए।

उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार ने सत्ता का दुरूपयोग किया है।

सरकार गैर जवाबदेह और सिस्टम जीरो है। चारों तरफ अराजकता है। सीएम पद की गरिमा खत्म कर दी गई है।

लोग यही मान रहे हैं कि राज्य नेतृत्वविहीन है। राज्य में सारा पद गैर जिम्मेदाराना हो गया है।

दूसरे कई राज्य विकास और जनता के प्रति जवाबदेही में आगे बढ़ रहे और झारखंड अपना परिचय खो रहा है।

उन्होंने कहा कि अबुआ आवास योजना महज छलावा ह। पूरे राज्य में लाखों लोगों ने आवेदन दिया है।

लेकिन हर पंचायत में 40 लोगों को ही आवास मिलना है। महिला अत्याचार के पांच हजार से अधिक मामला दर्ज हुए, लेकिन मुख्यमंत्री इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देते।

शैक्षणिक, सामाजिक और आर्थिक आधार पर मूल्याकंन कर पिछड़ों को आरक्षण देने में सरकार ने विफल रही है।

आजसू प्रमुख ने पदाधिकारियों से कहा कि यह चुनावी साल है। एक दिन भी खाली नहीं बैठना है।

जनता बड़ी उम्मीदों से आजसू की तरफ देख रही है। पार्टी का भविष्य आप सब हैं।

सबको अपनी दायित्व का निर्वहन ईमानदारी से करना है। केंद्रीय समति और केंद्रीय कार्यकारिणी में हर वर्ग और हर क्षेत्र को भागीदारी दी गई है।

हमारा संकल्प राज्य का भला करना है। राज्यव्यापी सोच के साथ काम करना होगा। इसमें अनुशासन अहम होगा।

हमने अपना एजेंडा महाधिवेशन में तय कर दिया है। पदाधिकारियों को उन एजेंडा को साकार करना है।

पार्टी के वृहद विचारों को मूर्त रूप देना है। दो महीने के अंदर एक लाख पदेन पदाधिकारी बनाने का लक्ष्य पूरा करेंगे।

हर ब्लॉक में 25 सदस्यीय क्विक एक्शन फ़ोर्स का गठन किया जाएगा, जो हेल्पडेस्क के माध्यम से स्थानीय लोगों की समस्याओं और शिकायतों पर त्वरित करवाई करेगी।

इन्होंने भी किया संबोधित
शपथ ग्रहण समारोह को पार्टी के गिरिडीह सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी, विधायक लंबोदर महतो, सुनिता चौधरी. पूर्व मंत्री रामचंद्र सहिस, उमाकांत रजक, केंद्रीय उपाध्यक्ष हसन अंसारी, महासचिव रोशनलाल चौधरी ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *