तकिया से गला दबाकर बेटे को मारा, CEO मां अब खोलेगी होटल के राज, पहले भी आ चुकी थी गोवा

0

नई दिल्‍ली । गोवा (Goa)के एक होटल में अपने चार साल के बेटे की कथित तौर पर हत्या (the killing)करने वाली बेंगलुरु स्थित स्टार्ट-अप सीईओ सूचना सेठ (Start-up CEO Suchana Seth)से पुलिस की पूछताछ (inquiry)जारी है। हालांकि उसने पूछताछ में हत्या की बात से इनकार किया है। लेकिन बच्चे के पोस्टमार्टम रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। रिपोर्ट से पता चला है कि लड़के की “गला दबाकर हत्या” की गई थी। अपराध कम से कम 36 घंटे पहले हुआ था। कर्नाटक में पोस्टमार्टम करने वाले सरकारी डॉक्टर डॉ. कुमार नाइक ने कहा, ”बच्चे की हत्या 36 घंटे से अधिक समय पहले की गई थी। उसका गला दबाया गया है या गला घोंटा गया है। वहां कोई घाव के निशान नहीं हैं। इसमें तकिये या तार का इस्तेमाल हो सकता है।” उसकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के हवाले से मंगलवार को एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि बच्चे की मौत दम घुटने से हुई थी।

39 वर्षीय मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सूचना सेठ ने अपने चार वर्षीय बेटे की कथित तौर पर गोवा में हत्या कर दी और फिर उसके शव को बैग में भरकर टैक्सी से पड़ोसी राज्य कर्नाटक चली गई, जहां से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। गोवा पुलिस ने आरोपी सूचना सेठ को सोमवार रात कर्नाटक के चित्रदुर्ग से गिरफ्तार कर लिया। एक अधिकारी ने बताया कि उसे मंगलवार को गोवा लाया गया और मापुसा शहर की एक अदालत ने उसे छह दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार, हत्या के मकसद का अभी तक पता नहीं चला है। महिला छह जनवरी को अपने बेटे के साथ उत्तरी गोवा के कैंडोलिम में एक किराए के फ्लैट में आई थी और दो दिनों तक वहां रहने के बाद सोमवार को टैक्सी से बेंगलुरु चली गई। पुलिस ने बताया कि अपार्टमेंट के कर्मचारियों ने बाद में पुलिस को सूचित किया और उन्हें बताया कि जब वह वहां से निकली, तो उनका चार वर्षीय बेटा उनके साथ नहीं दिखा। हिरियुर तालुक अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी डॉ कुमार नाइक ने संवाददाताओं से कहा कि उसकी मौत मुंह और नाक दबाने की वजह से दम घुटने से हुई होगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए किसी कपड़े या तकिए का इस्तेमाल किया गया। नाइक के अनुसार ऐसा नहीं लगता कि हाथों से गला घोंटकर बच्चे को मारा गया होगा।

गोवा में, महिला से पूछताछ में शामिल एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने भी यह कहा कि बच्चे का गला दबाया गया था, “संभवतः सर्विस अपार्टमेंट से तकिया का इस्तेमाल करके दबाया होगा।” अधिकारी ने कहा, “कोई हत्या का हथियार नहीं था। उसने कथित तौर पर कैंची से अपनी कलाई काटकर खुद को मारने की कोशिश की। खून के नमूने एकत्र कर लिए गए हैं और इसकी पुष्टि के लिए डीएनए परीक्षण किया जाएगा।” पुलिस ने कहा कि जब वह कर्नाटक जा रही थी तो उन्होंने उसे फोन किया और उसके होटल के कमरे में सफाई कर्मचारियों द्वारा देखे गए खून के बारे में पूछा। उसने पहले दावा किया कि ऐसा इसलिए था क्योंकि उसे पीरियड आ रहे थे।

अधिकारी ने कहा, “महिला ने कहा कि वह सफाई के लिए (अलग) से पेमेंट कर देगी। हालांकि, हमारी प्रारंभिक जांच में पाया गया कि तौलिये और फर्श पर खून के धब्बे उसे लगी चोटों के कारण थे।” पुलिस ने कहा कि सूचना सेठ ने 2010 में वेंकट रमन से शादी की और दंपति को 2019 में एक बेटा हुआ, जिसके बाद उनकी शादी में मतभेद पैदा हो गए। उन्होंने कहा, “उसके पति के बयान के अनुसार, उनके बेटे के जन्म के तुरंत बाद, वह बच्चे के प्रति संवेदनशील हो गई और उनके बीच अक्सर झगड़े होने लगे। इसके तुरंत बाद, दंपति अलग हो गए और वे पिछले दो वर्षों से संपर्क में नहीं हैं।”

अधिकारी ने बताया, “उनकी तलाक की कार्यवाही चल रही थी। बेंगलुरु की एक पारिवारिक अदालत के हालिया आदेश में निर्देश दिया गया था कि पिता को हर रविवार को बच्चे की कस्टडी मिलनी चाहिए। पिछले पांच सप्ताह से उसने अपने बेटे को अपने पिता से मिलने नहीं दिया। हमारा मानना है कि वह यह सुनिश्चित करने के लिए वीकेंड में गोवा आई थी कि एक और सप्ताह गुजर जाए।”

पूछताछ के दौरान महिला ने कहा कि उसने अपने बेटे की हत्या नहीं की है। अधिकारी ने कहा, “उसने दावा किया कि उसका बेटा सो रहा था और उसे नहीं पता कि उसकी मौत कैसे हुई।” कैब ड्राइवर ने पुलिस को बताया कि गोवा से बेंगलुरु तक की यात्रा के दौरान वह शांत थी। अधिकारी ने कहा, “जब उसने बताया कि उसका सूटकेस असामान्य रूप से भारी है, तो उसने कहा कि यह कपड़ों और अतिरिक्त सामान के कारण है।” उन्होंने कहा कि वह पहले भी अपने बेटे के साथ गोवा गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *