उज्जैन में व्यापार मेला, इन्वेस्टर्स समिट और विक्रमोत्सव का आयोजन 1 मार्च से होगा, तैयारियाँ पूरी

0

भोपाल । मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गत दिनों भोपाल में आयोजित बैठक में उज्जैन व्यापार मेला, विक्रमोत्सव और इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन को लेकर विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये थे। उन्होंने बैठक में निर्देश दिये थे कि इन्वेस्टर्स समिट में अन्य राज्यों के साथ मुख्य रूप से गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के निवेशकों को आमंत्रित किया जाये। समिट में गारमेंट्स, टेक्सटाइल और फूड प्रोसेसिंग यूनिट के जरिये स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर बढ़ाने के प्रयास किये जायेंगे। मुख्यमंत्री डॉ. यादव के निर्देशानुसार उज्जैन में एक मार्च को विक्रम व्यापार मेला, इन्वेस्टर्स समिट और विक्रमोत्सव आयोजित किया जा रहा है। इन आयोजनों के लेकर उज्जैन में व्यापक स्तर पर तैयारियाँ चल रही हैं। आयोजन की प्रस्तावित गतिविधियों की सूची बनाई जा रही है। इसके साथ ही इन्वेस्टर्स समिट में आमंत्रित उद्योगपतियों और उनकी उद्योग इकाइयों की जानकारी अपडेट की जा रही है। इन्वेस्टर्स समिट का फोकस विशेष रूप से उज्जैन तय किया गया है।

व्यापार मेला

उज्जैयनी विक्रय व्यापार मेले की तैयारियाँ भी की जा रही है। व्यापार मेले का आयोजन नगर पालिका निगम उज्जैन द्वारा किया जा रहा है। व्यापार मेले में ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक सेक्टर की दुकानें प्रमुख रूप से लगाई जायेगी। इनमें उज्जैन के स्थानीय व्यापारियों को वरीयता दी जा रही है। इसके साथ ही व्यापार मेले के अन्य सेक्टरों में विभिन्न वस्तुओं के डीलर्स को भी आमंत्रित किया जा रहा है। मेले में नागरिकों के लिये फूड जोन आकर्षण का केन्द्र रहेगा। इस जोन में विशेष रूप से मालवा के व्यंजनों का लुत्फ नागरिक उठा सकेंगे। व्यापार मेले में पर्यटन, संस्कृति. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग के माध्यम से वस्तुओं का प्रदर्शन और बिक्री की जायेगी।

वाणिज्यिक कर विभाग

इलेक्ट्रॉनिक, घरेलू उपकरण और वाहनों की बिक्री पर एसजीएसटी में छूट संबंधी प्रावधान का परीक्षण करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये गये हैं। व्यापार मेले में विक्रय होने वाले गैर-परिवहन वाहनों तथा छोटे परिवहन वाहनों पर पंजीयन शुल्क और रोड टैक्स में 50 प्रतिशत की छूट का प्रस्ताव मंत्रि-परिषद के समक्ष रखे जाने की कार्यवाही की जा रही है। पर्यटन विभाग महाकाल दर्शन के साथ होटलों में रियायती दर पर रुकने की सुविधा उपलब्ध करायेगा।

वरिष्ठ अधिकारियों ने की समीक्षा

एक मार्च को विक्रम व्यापार मेला, इन्वेस्टर्स समिट और विक्रमोत्सव के भव्य आयोजन की सचिव एमएसएमई श्री पी. नरहरि और एमपीआईडीसी के एमडी श्री नवनीत कोठारी ने स्थानीय स्तर पर प्रशासनिक अधिकारियों के साथ तैयारियों की समीक्षा की।

स्वच्छता पर दिया जायेगा विशेष ध्यान

उज्जैन में एक मार्च से होने वाले आयोजनों में नागरिकों के सुविधाजनक आवागमन के साथ व्यापार मेला स्थल पर नगर निगम द्वारा स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। इन आयोजनों में जन-भागीदारी को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *