ये ‘लोकतंत्र का मजाक’, बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण पर भड़का विपक्षी UDF गठबंधन और कांग्रेस

0

नई दिल्‍ली । केरल विधानसभा के बजट सत्र में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान के छोटे अभिभाषण पर विपक्षी यूडीएफ गठबंधन ने नाराजगी जाहिर की है। कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ गठबंधन ने विधानसभा में राज्यपाल के छोटे अभिभाषण को ‘लोकतंत्र का मजाक’ करार दिया।

साथ ही यूडीएफ ने इसे विधानसभा का अपमान भी बताया। केरल विधानसभा का बजट सत्र आज से शुरू हो गया है। बजट सत्र की शुरुआत में राज्यपाल का अभिभाषण हुआ, लेकिन राज्यपाल ने इस अभिभाषण का सिर्फ आखिरी पैराग्राफ पढ़ा और कुछ ही मिनटों बाद विधानसभा से चले गए।

विपक्षी नेताओं ने जताई कड़ी नाराजगी

केरल में विपक्ष के नेता वीडी सतीशन ने कहा ‘राज्यपाल का अभिभाषण का सिर्फ आखिरी पैरा पढ़ना विधानसभा का अपमान है। साथ ही यह संविधान के निर्देशों और विधानसभा के नियमों की भी अवहेलना है। हम इसका कड़ा विरोध करते हैं। यह राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच चल रहे ड्रामे का बहुत निम्न स्तर है।’ केरल विधानसभा में डिप्टी विपक्षी नेता पी के कुनालिकुट्टी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता तिरुवनचूर राधाकृष्ण ने भी नाराजगी जताई। दोनों ने राज्यपाल के छोटे अभिभाषण को लोकतंत्र का मजाक करार दिया।

कई मुद्दों पर आमने-सामने हैं राज्यपाल और केरल सरकार

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान और राज्य की एलडीएफ सरकार के बीच कई मुद्दों पर तनातनी चल रही है। यह तनातनी राज्य की यूनिवर्सिटीज के कामकाज, राज्यपाल द्वारा कई विधेयकों पर हस्ताक्षर न करने को लेकर है। बीते दिनों में सीपीआई (एम), इसकी यूथ विंग डेमोक्रेटिक यूथ फेडरेशन ऑफ इंडिया और इसकी छात्र शाखा स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा कई बार राज्यपाल का विरोध किया गया है।

राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच की यह तनातनी गुरुवार को बजट सत्र की शुरुआत में भी दिखी, जब राज्यपाल सुबह 9 बजे विधानसभा पहुंचे और कहा कि वह अभिभाषण का सिर्फ आखिरी पैरा पढ़ेंगे। इसके बाद उन्होंने सुबह 9.02 बजे अपना अभिभाषण पूरा किया और 9.04 बजे विधानसभा से निकल भी गए। राज्यपाल ने 61 पेज के अभिभाषण में से सिर्फ अंतिम पैराग्राफ पढ़ा और सिर्फ एक मिनट 15 सेकेंड में अपना अभिभाषण पूरा कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *