इंडिया गठबंधन को क्यों सता रहा चंपई सरकार गिरने का डर? जानें जयराम रमेश ने क्‍या कहा…

0

रांची । झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) नेता चंपई सोरेन के शपथ ग्रहण में देरी को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर कड़ा प्रहार करते हुए कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि यह अस्थिरता की राजनीति है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्यपाल ने शपथ ग्रहण समारोह में देरी की। हालाँकि, चंपई सोरेन सीएम बन गए हैं, और जल्द ही उनके कैबिनेट का गठन किया जाएगा। शपथ ग्रहण के दो दिनों के बाद तक कांग्रेस उस मुद्दे को लेकर आरोप लगा रही है।

यह अस्थिरता की राजनीति

जयराम रमेश ने कहा कि, पहले, उन्होंने (भाजपा) महाराष्ट्र में शिवसेना को विभाजित किया, फिर नीतीश कुमार को बिहार में यू-टर्न लेने के लिए मजबूर किया गया। अब, झारखंड में हेमंत सोरेन पर ED और CBI को लगा दिया गया है। यह अस्थिरता की राजनीति है। भाजपा भारत जोड़ो यात्रा और INDIA गठबंधन से परेशान है। इस बीच, झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी के नेता चंपई सोरेन ने शुक्रवार को रांची के राजभवन में झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वह 5 फरवरी को फ्लोर टेस्ट का सामना करेंगे। गठबंधन को टेस्ट पास करने का भरोसा है।

INDIA गठबंधन एकजुट

JMM नेता मनोज पांडे ने कहा कि, “INDIA गठबंधन एकजुट है. हमारे साथ 48 से ज्यादा विधायक हैं. हमारे सभी विधायक मौजूद रहेंगे और हम फ्लोर टेस्ट आसानी से पास कर लेंगे। तमाम कोशिशों के बावजूद, दिल्ली, गुजरात और रांची के एक साथ आने के बावजूद, INDIA गठबंधन बरकरार है। हेमंत सोरेन भी सदस्य हैं, वह भी आएंगे (फ्लोर टेस्ट के लिए)। इसलिए, मुझे नहीं लगता कि कोई समस्या है। मैं इसे सिर्फ औपचारिकता मानता हूं।

विद्रोह की सभी अटकलें को जयराम रमेश ने किया खारिज

विधायक इरफान अंसारी की टिप्पणी के बाद कांग्रेस की राज्य इकाई के भीतर विद्रोह की सभी अटकलों को भी जयराम रमेश ने खारिज कर दिया और कहा, “ऐसा नहीं है।” झारखंड में मचे घमासान के बीच इरफान अंसारी ने कहा था कि अगर कुछ मंत्रियों को दोबारा मंत्री बनाया गया, तो पार्टी में बगावत हो सकती है, इस पर नेतृत्व को सोचना होगा। झारखंड विधानसभा का सत्र 5 फरवरी और 6 फरवरी को होगा।

5 फरवरी को शक्ति परीक्षण से गुजरने की संभावना

झारखंड में चंपई सोरेन के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार के 5 फरवरी को शक्ति परीक्षण से गुजरने की संभावना है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ ने शुक्रवार को झारखंड में प्रवेश किया और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर झारखंड सरकार को गिराने का प्रयास करने का आरोप लगाया, साथ ही कहा कि राज्य के लोग उनकी “साजिश” के खिलाफ खड़े हैं। राहुल गांधी ने झारखंड में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, “झारखंड में भाजपा ने जनता की चुनी हुई सरकार को गिराने की पूरी कोशिश की. लेकिन आपने भाजपा की इस साजिश का डटकर मुकाबला किया. आपके सहयोग के लिए दिल से धन्यवाद! हम भाजपा से नहीं डरते।

बता दें कि, 81 सदस्यीय झारखंड विधानसभा में, झारखंड मुक्ति मोर्चा के पास 29, उसकी सहयोगी कांग्रेस के पास 17 सीटें हैं; जबकि राजद और सीपीआई (एमएल) के पास 1-1 सीट है। 43 विधायकों के समर्थन के साथ, इंडिया ब्लॉक के पास शक्ति परीक्षण के लिए पर्याप्त संख्या है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *