भ्रष्टाचार मामले में ममता के इन मंत्री, विधायको पर ED का शिंकजा, इनके ठिकानों पर छापेमारी

0

कोलकात्ता। पश्चिम बंगाल में भ्रष्टाचार के मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने सीएम ममता बनर्जी के मंत्री, विधायक और नेताओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। शुक्रवार की सुबह ईडी के अधिकारियों ने राज्य के दमकल मंत्री सुजित बोस, बारानगर में टीएमसी के विधायक तापस राय और उत्तर दमदम नगरपालिका और पूर्व अध्यक्ष सुबोध चक्रवर्ती के ठिकानों पर छापेमारी की।

ईडी अधिकारियों की छापेमारी पिछले सप्ताह संदेशखाली में टीएमसी नेता शाहजहां शेख के ठिकानों के छापेमारी के बाद हुई है। इस दिन छापेमारी के दौरान ईडी अधिकारियों के साथ बड़ी संख्या में सशस्त्र सीआरपीएफ के जवान भी मौजूद थे।

मंत्री सुजित बसु के दो घरों और बारानगर के तृणमूल विधायक तापस रॉय के घर पर शुक्रवार सुबह से शुरू हुआ तलाशी अभियान दोपहर बाद भी जारी है। इससे पहले सेंट्रल फोर्स के जवानों ने मंत्री के घर के सामने और आसपास के इलाकों में गश्त शुरू कर दी थी। सुबह होने के बाद देखा गया कि मंत्री के घर के सामने खाकी वर्दी में राज्य पुलिस भी तैनात थी।

पुलिस अधिकारी और कर्मचारी भी इलाके में नजर आये। मंत्री के घर के मुख्य द्वार के सामने दोनों तरफ राज्य पुलिस और केंद्रीय बल के अधिकारी खड़े हैं। ईडी गुरुवार को बारानगर विधायक तापस राय के घर भी गयी। सुबह से ही वहां तलाश जारी है।

सुजित, तापस और सुबोध चक्रवर्ती के ठिकानों पर छापेमारी

लेक टाउन के श्रीभूमि इलाके में सुजित बसु के घर के पास सुबह से ही केंद्रीय बल हाथ में डंडे और कंधे पर बंदूक लेकर गश्त करते दिखे। इलाके में भीड़ जुटती देख फोर्स के सदस्यों ने लोगों को हटाने की कोशिश की। आधी रात के बाद श्रीभूमि क्लब के सामने केंद्रीय बल के जवानों को भी तैनात कर दिया गया।

शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे ईडी के अधिकारियों ने सुजित बोस के घर पर छापेमारी की। प्राप्त जानकारी के अनुसार ईडी के अधिकारी नियुक्ति में भ्रष्टाचार के मामले में जांच कर रही है। वहीं, नगरपालिका भर्ती भ्रष्टाचार मामले में उत्तरी दमदम नगर पालिका और पूर्व अध्यक्ष सुबोध चक्रवर्ती सीबीआई और ईडी की जांच के दायरे में हैं। ईडी की टीम ने शुक्रवार सुबह से उनके घर पर छापेमारी की। सुबोध चक्रवर्ती पेशे से शिक्षक हैं। सुबोध चक्रवर्ती पर आरोप है कि उन्होंने अपने बेटे और बेटी को नगर पालिका में नौकरी दी है।

भ्रष्टाचार के मामले में शामिल होने का आरोप

ईडी सूत्रों के मुताबिक आज यह तलाशी मुख्य रूप से सरकारी भर्तियों में हुए भ्रष्टाचार की जांच के सिलसिले में की जा रही है। उसी आधार पर ईडी उत्तर दमदम के पूर्व मेयर सुबोध चक्रवर्ती और दक्षिणी दमदम के पूर्व डिप्टी मेयर सुजीत बसु के घर गयी।

सूत्रों के मुताबिक बारानगर नगरपालिका में नियुक्ति में गड़बड़ी के आरोप में विधायक तापस रॉय का नाम शामिल है। ईडी उसके अधीन नगर पालिका से पूछताछ करना चाहती है? मालूम हो कि कुछ दिन पहले उस नगर पालिका की पार्षद अपर्णा मौलिकी से ईडी ने पूछताछ की थी। ईडी सूत्रों के मुताबिक, इसके अलावा, अयान शील को नगरपालिका घाटाले मामले में मास्टरमाइंड के रूप में नामित किया गया है। इसी मामले में सुबोध चक्रवर्ती और तापस राय से पूछताछ हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *