MP पुलिस टीम पर दबंगों का हमला, हेड कांस्टेबल की मौत, जानिए गोली चलाने वाले आरोपी का क्या हुआ?

0

नई दिल्‍ली । मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में हिस्ट्रीशीटरओ को पकड़ने गई पुलिस टीम पर दबंगों ने हमला बोल दिया। दबंगों ने पुलिस पर सीधी फायरिंग झोंक दी। इस फायरिंग में प्रधान आरक्षक राजेश ठाकुर को गोली लग गई। आनन-फानन उसे अस्पताल पहुंचाया गया। जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। प्रधान आरक्षक की मौत से उसके परिवार में कोहराम मच गया।

प्रधान आरक्षक की इलाज के दौरान मौत

जानकारी अनुसार जिले के डूंडासिवनी थाना क्षेत्र में गुरुवार रात को अपराधियों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। गोली लगने से प्रधान आरक्षक गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जहां गंभीर रूप से घायल प्रधान आरक्षक राकेश ठाकुर का जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार कर उन्हें नागपुर ले जाया गया था। जहां उपचार के दौरान निधन हो गया।

राकेश ठाकुर के शहीद होते ही पुलिस महकमें व परिजनों में गहरा सदमा लगा हुआ है। पुलिस ने बताया कि हमला करने वालों में दो लोग भिंड जिले के हैं। दो मंडला जिले के नैनपुर के रहने वाले हैं।

तीन साथियों को छुड़ाने के लिए चलाई गोली

सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह रात में ही अस्पताल और मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि कुछ अपराधयों को पकड़ने के लिए टीम छिंदवाड़ा बाइपास गई थी। टीम ने तीन आरोपियों को पकड़ लिया था। चौथे आरोपी ने साथियों को बचाने के लिए गोली चला दी। इनमें प्रधान आरक्षक राकेश ठाकुर घायल हो गए। गोली चलाने वाला आरोपी मौके से फरार हो गया है। बाकी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। फरार आरोपी भिंड का रहने वाला है। पकड़े गए आरोपियों में भी एक भिंड का निवासी है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

आरोपी अलग-अलग अपराधों में संलिप्त थे। उनको पकड़ने के लिए डूंडा सिवनी थाने पुलिस टीम गुरुवार रात करीब 10 बजे छिंदवाड़ा बाइपास क्षेत्र में गई थी। पुलिसकर्मियों पर भिंड जिले के रहने वाले एक आरोपी ने फायरिंग कर दी। एक गोली प्रधान आरक्षक राकेश ठाकुर को लग गई। इससे राकेश गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें जिला चिकित्सालय लाया गया। डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद नागपुर रेफर कर दिया। जहा उनकी मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *