Ayodhya: ‘मंदिर वहां नहीं बना… जाकर देख लीजिए’, राम मंदिर की जगह पर संजय राउत ने उठाए सवाल

0

नई दिल्‍ली । अयोध्या में भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर हर तरफ तैयारियां जोरों शोरों से है. प्राण प्रतिष्ठा से पहले राम मंदिर को लेकर सियासत भी जोरों पर हैं. इसी बीच अब शिवसेना उद्धव गुट के सांसद संजय राउत ने राम मंदिर को लेकर एक बड़ा दावा किया है।

संजय राउत ने यह दावा किया है कि राम मंदिर उस जगह पर नहीं बन रहा है जहां पहले बाबरी मस्जिद हुआ करती थी. संजय राउत ने कहा कि ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’ कहकर विवादित ढांचा को ध्वस्त जरूर किया गया है लेकिन मंदिर वहां से तीन किलोमीटर दूर बनाया जा रहा है।

‘3 किलोमीटर की दूरी पर मंदिर क्यों बनाया जा रहा’

शिवसेना उद्धव गुट के सांसद संजय राउत ने कहा कि बाबरी मस्जिद के गुंबद के नीचे ही प्रभु श्रीराम का जन्म हुआ था. इसी को देखते हुए उस जगह पर भव्य राम मंदिर बनाने के लिए मस्जिद को गिराई गई थी लेकिन इसके बाद भी उस जगह से तीन किलोमीटर की दूरी पर मंदिर क्यों बनाया जा रहा है।

संजय राउत ने सवालिए लहजे में कहा कि जब तीन किलोमीटर दूर ही राम मंदिर बनाना था तो फिर मस्जिद को क्यों गिराई गई. हिंदू और मुस्लिम के बीच नफरत क्यों फैलाई गई. उन्होंने आगे कहा कि तीन किलोमीटर दूर मंदिर बनाए जाने के बाद अब यह साफ हो गया है कि इसके पीछे सिर्फ और सिर्फ राजनीति है. इसके साथ ही हिंदुओं से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि देश हित में धर्म के नाम पर की जा रही इस राजनीति का विरोध किया जाना चाहिए।

हिंदुओं का अपमान करना बंद करें- फडणवीस

संजय राउत के इन तमाम सवालों को लेकर जब महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मैं मूर्खों के सवालों का जवाब नहीं देता लेकिन उनसे कहना चाहता हूं कि वे हिंदुओं का अपमान करना बंद करें. आपका राम जन्मभूमि के आंदोलन में कोई योगदान नहीं है. उद्धव ठाकरे जी की सेना इस प्रकार से बातें करके करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम कर रही है जोकि गलत है।

देवेंद्र फडणवीस के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए संजय राउत ने कहा कि जिस विवादित ढ़ांचा को हमने गिराया था, वहां मंदिर का गर्भगृह होना था, लेकिन वहां मंदिर बना क्या? उन्होंने आगे कहा कि आप जाकर देखिए जो गर्भगृह था वहां मंदिर होना था. जो हमने गिराया था. वहां मंदिर होना था. वहां मंदिर बन गया क्या? मंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन मंदिर वहां नहीं बना. आप जाकर देख लीजिए मंदिर कहां बना है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *