मनरेगा के अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं में किसी प्रकार की लापरवाही या कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी: सचिव

ग्रामीण विकास सचिव प्रशांत कुमार ने विभाग के अनुसमर्थन मिशन दल के सदस्यों के साथ बैठक की

RANCHI:  राज्य भर में ग्रामीण विकास विभाग की कई विकास और कल्याणकारी योजनाएं चल रही है।

जिलों में इन सभी योजनाओं को धरातल पर उतारने में उपायुक्तों एवं विकास आयुक्तों का अहम रोल है।

लोगों को इन योजनाओं का लाभ कैसे मिले, इसमें आपको पूरी जिम्मेदारी के साथ कार्य करना है ।

ग्रामीण विकास विभाग, सचिव प्रशांत कुमार ने आज विभाग के अनुसमर्थन मिशन दल के सदस्यों के साथ समीक्षा बैठक में यह बातें कही।

उन्होंने कहा कि राज्य के विकास को गति देने के साथ सरकार की योजनाओं को उन लोगों तक पहुंचाएं जिनके लिए इन योजनाओं को बनाया गया है।

सचिव प्रशांत कुमार ने कहा कि राज्य में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं में अनुसमर्थन प्रदान करने हेतु राज्य ग्रामीण विकास अनुसमर्थन मिशन दल का गठन किया गया है

यह ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं का सघन पर्यवेक्षण तथा जिलों को सतत मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए जो अनुसमर्थन मिशन दल के सदस्य नामित हैं

वे क्षेत्र भ्रमण कर योजनाओं का निरंतर अनुश्रवण करें।

सचिव ने कहा कि यह अभियान सिर्फ अभी तक ही नहीं बल्कि आगे भी निरंतर चलती रहेगी।

सचिव ने कहा कि कुछ क्षेत्रों में विभिन्न जिलों ने अच्छी उपलब्धि हासिल की है तो इसमें कई जिले पीछे भी हैं ।

ऐसे में जहां विकास की गति धीमी है, उसे तेज करने के लिए सभी ठोस कदम उठाए जाने चाहिये।

सचिव ने यह भी कहा कि जिलों के सामने कई चुनौतियां होती है ।

उन्हें समय और परिस्थितियों के अनुकूल तत्काल निर्णय भी लेने होते हैं । ऐसे में आप अपने निर्णय को इस तरह लें कि उसका लाभ ज्यादा से ज्यादा राज्य वासियों को हो सके।

 

समीक्षा बैठक में सचिव ने संबंधित पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि मनरेगा के तहत सभी कार्यों को ससमय पूर्ण कराया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत संचालित कल्याणकारी योजनाओं को सफल बनाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।

आगे उन्होंने कहा कि योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन से आमजनों के जीवन में अपेक्षित सुधार किया जा सके।

उन्होंने निर्देशित किया कि संवेदनशील होकर लोगों को कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने हेतु प्रयास किये जाने चाहिए।

साथ ही निरन्तर क्षेत्र का भ्रमण करते हुए योजना की पूर्णता में तेजी लाना सुनिश्चित करेंगे।

बैठक में मनरेगा आयुक्त श्रीमती राजेश्वरी बी, विशेष सचिव, ग्रामीण विकास विभाग श्री राम कुमार सिन्हा, संयुक्त सचिव श्रीमती शैल प्रभा कुजुर, संयुक्त सचिव श्री अरुण कुमार सिंह, उप सचिव श्री प्रमोद कुमार, अवर सचिव श्री चंद्रभूषण,अवर सचिव श्री अरुण कुमार सिन्हा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें एक नजर में….