बच्चों में मैथ्स के प्रति फोबिया को दूर करने की जरूरत:डॉ समरजीत जाना

 

जेवीएम श्यामली में प्रारंभिक गणितीय कार्यशाला का आयोजन

RANCHI: जेवीएम श्यामली में मंगलवार 22 नवंबर को प्रारंभिक गणितीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इसमें शिक्षकों को बच्चों में गणित के प्रति रूचि जगाने के लिए प्रशिक्षण विशेषज्ञों ने दिया।

यह कार्यशाला सीबीएसई के निर्देश पर करियर बिल्डिंग प्रोग्राम के तहत आयोजित किया गया।

पत्रकारों को जानकारी देते हुए स्कूल के प्रिंसिपल एवं मुख्य अतिथि ने बताया कि इस कार्यशाला के क्या उद्देश्य है।

कार्यशाला में मुख्य अतिथि के तौर पर श्री कृष्णा ग्रुप आफ एजुकेशन भिलाई के शिक्षा अध्किारी आरएस पांडेय एवं वीएस कल्पना ने गणित के आगमन विधि, निगमन विधि, विश्लेषण विधि, संश्लेषण विधि, प्रयोगशाला विधि के अलावा खेल-खेल में गणित सीखना कहानियों द्वारा गणित शिक्षण सहित अन्य व्रिफयाकलापों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

विशेषज्ञों ने बताया कि इन विध्यिों के द्वारा बच्चों में गणितीय अभिरूचि उत्पन्न पैदा की जा सकती है।

पांच घंटे की कार्यशाला में रांची के 30 स्कूलों के शिक्षकों ने भाग लिया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में स्कूल के प्रिंसिपल डा.समरजीत जाना ने कहा कि जिस प्रकार आज बच्चों में मैथ्स के प्रति अभिरूचि समाप्त होती जा रही है,

बच्चों में मैथ्स के प्रति फोबिया है, इसे दूर करने की जरूरत है और नये-नये विधि से बच्चों में गणित के प्रति अभिरूचि जगाने की जरूरत है।

हालांकि शिक्षक इसके लिए पूरा प्रयास करते हैं, लेकिन समय के साथ बदलाव जरूरी है।

उन्होंने कहा कि यह तभी संभव है, जब इस प्रकार के कार्यव्रफम में शिक्षक आकर अपना ज्ञानवर्धन करें और इसका लाभ हमारे सभी बच्चों को मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *