चुनी हुई हेमंत सरकार को अस्थिर कर अदपस्थ करने के षड्यंत्र मे लगी हुई है केन्द्र सरकार:विजय शंकर नायक

झारखंडी दलित आदिवासी मूलवासी समाज भाजपा के इस घिनौने खेल का मुंहतोड़ जवाब देने का कार्य करेगा: नायक

RANCHI:  केंद्र मैं बैठी भाजपा की सरकार सीबीआई एवं ईडी चुनाव आयोग तथा राज्यपाल के माध्यम से राज्य में चुनी हुई हेमंत सरकार को अस्थिर कर अदपस्थ करने के षड्यंत्र मे लगी हुई है

और लोकतंत्र की हत्या कर हेमंत सरकार को येन केन प्रकरेन किसी भी तरह सत्ता से हटाने कि गंदे चाले चल रही है

जिसका समस्त झारखंडी दलित आदिवासी मूलवासी समाज भाजपा के इस घिनौने खेल का मुंहतोड़ जवाब देने का कार्य करेगा।

उपरोक्त बातें आज झारखंडी सूचना अधिकार मंच के केंद्रीय अध्यक्ष हटिया विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी विजय शंकर नायक ने आज ईडी के द्वारा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को सम्मन भेजने पर अपनी प्रतिक्रिया में कहीं

उन्होंने यह भी संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि 20 24 के संसदीय चुनाव को देखते हुए चुनाव से पूर्व सभी गैर शासित भाजपा राज्यों के विपक्षी दलों के नेताओं एवं मुख्यमंत्रियों को जेल भेजने का केंद्र में बैठी भाजपा सरकार षड्यंत्र कर रही है

ताकि वह 20 24 में झारखंड एवं अन्य राज्यों से भाजपा को चुनाव में जीत दर्ज करा सकें और केंद्र में भाजपा सरकार बनाने का मार्ग प्रशस्त हो सके.

श्री नायक ने आगे कहा कि पूर्वर्ती भाजपा की 15 वर्ष की सरकारों ने झारखंड में भ्रष्टाचार नहीं किए ऐसी बात नहीं है

एक से एक संगीन भ्रष्टाचार किया गया और भाजपा ने ईमानदारी का मुखौटा लगाकर भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया पूंजी निवेश के नाम पर मैं मोमेंटम झारखंड कर पैसों की करोड़ों अरबों रुपया की बंदरबांट की गई

तो शहर को जलजमाव से मुक्ति दिलाने के नाम पर सीवरेज ड्रेनेज प्रोजेक्ट के नाम पर 357 करोड़ की लूट, राज्य स्थापना दिवस में टी-शर्ट टॉफी घोटाला, गीत -संगीत घोटाला, साज-सज्जा घोटाला 5.50 करोड़ रुपया साज-सज्जा के नाम पर कुल ₹12 करोड़ लूट की गई जिसकी जांच अभी एसबी कर रही है.

बिजली विभाग में हुए घोटाले ने तो जनता की गाढ़ी कमाई को लूटने का काम किया गया

पतरातु थर्मल की यूनिटों को दुरुस्त करने के नाम पर 333 करोड़ रुपए की लूट की गई सिकिदिरी हाइडिल के जीर्णोद्धार के नाम पर 22 करोड़ की लूट किया गया

प्रदेश की बिजली व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए एपीडीआरपी प्रोजेक्ट के नाम पर 29 करोड़ की लूट जमशेदपुर में अवैध रूप से उद्योगों को बिजली देकर 4 करोड़ का घोटाला टीडीएस घोटाला जिसमें ₹15 करोड़ की लूट हुई

और सब के सब भाजपा के शासनकाल में लूट हुई।

अब भ्रष्टाचार के मामले पर भारतीय जनता पार्टी को बोलने का नैतिक अधिकार नहीं है।

श्री नायक ने यह भी आरोप लगाया कि मोरबी पुल के गिर जाने से 140 लोगों की मौत के जिम्मेदार जिसने
पूल के ढांचे की मरम्मत की थी अजंता ओरेवा कंपनी के मालिक उद्धव राघव पटेल को भाजपा की गुजरात की सरकार बचाने के लिए एड़ी चोटी लगाने का कार्य कर रही है

क्योंकि  उद्धव राघव पटेल के सीधे रिश्ते देश के भाजपा के बड़े नेताओ से जुड़े हुए हैं

भाजपा को सिर्फ झारखंड में ही और गैर भाजपा शासित प्रदेशों में ही भ्रष्टाचार दिखाई दे रहा है

और भ्रष्टाचार के नाम पर सिर्फ सत्ता हथियाने का कार्य करने में लगी है

जो लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है भाजपा याद रखें कि किसी भी हालत में ऑपरेशन लोटस को सफल नहीं होने देगी

झारखंड की जनता और इसका खामियाजा आने वाले चुनाव में भाजपा को सबक के रूप में देने का काम करेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *