हत्यारों को जब तक फांसी की सजा नहीं होती तबतक हत्यारों का मनोबल बढता ही रहेगा: नायक

RANCHI:  जब तक स्पीडी ट्रायल कर पेट्रोल डाल कर जलाने वाले हत्यारों को फांसी नहीं होती तब तक हत्यारों का मनोबल बढ़ता ही रहेगा और हमारी बेटियां इन नर पिशाचों के हाथ जलते रहेगी


उपरोक्त बातें आज झारखंडी सूचना अधिकार मंच के केंद्रीय अध्यक्ष सह कांके विधान सभा के पूर्व प्रत्याशी विजय शंकर नायक ने

आज दुमका शहर के जरूआडीह मुहल्ले में पिछले दिनों एक नाबालिग छात्रा को पेट्रोल डाल कर जलाने की घटना के बाद अब जिले के जरमुंडी थाना क्षेत्र के भालकी गांव में एकतरफा प्यार में सनकी युवक ने एक युवती पर पेट्रोल छिड़क कर गुरुवार की रात आग लगा देने से आग से झुलसी युवती को गंभीर स्थिति में दुमका के फूलो-झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया,

जहाँ से बेहतर इलाज के लिए उसे रांची रिम्स भेजा गया लेकिन वो शुक्रवार को ज़िंदगी की जंग हार गयी तथा उसकी मौत हो गयी कि प्रतिक्रिया मे कही।

इन्होंने आगे बताया कि आज ऐसे हत्यारों का मनोबल दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है इससे पूर्व भी अगस्त माह में एक के छात्रा को इसी तरह पेट्रोल डालकर हत्यारों ने जलाने का काम किया था

अभी वह मामला ठंडा भी नहीं हुआ किया लोमहर्षक अमानी हुई दूसरी घटना हो गई इससे ऐसा प्रतीत होता है

की ऐसे अपराधी भयमुक्त होकर ऐसे भी बस विभक्ति होकर ऐसे घटनाओं को अंजाम देने का काम कर रहे हैं जो आने वाले दिनों के लिए बहुत ही बुरा संकेत हैं।

श्री नायक ने आगे कहा की हेमंत सरकार को एवं कानून के रखवाले पुलिस को यह समझना होगा

कि अपराधियों को जब तक कानून का भय नहीं रहेगा कानून का डर नहीं रहेगा तो इसी तरह घटनाओं को अंजाम देते रहेगें

इसलिए झारखंडी सूचना अधिकार मंच का मानना है कि वह जल्द से जल्द दोनों पेट्रोल कांड में गिरफ्तार हुए दोषी अपराधियों को जल्द से जल्द ही स्पीड ट्राईल करके तुरंत फांसी देने का काम करें

ताकि ऐसी घटना को अंजाम देने से पूर्व अपराधी हजार बार सोचने का काम करें।
श्री नायक ने साफ़ शब्दों में सरकार से मांग किया है की बहन बेटियों को जलाने वाले अपराधी एवं एसिड फेंकने वाले अपराधी को कदापि बख्शा नहीं जाना चाहिए और वैसे लोगों को फांसी की सजा से कम सजा नहीं दी जानी चाहिए

ताकि समाज में एक संदेश जा सके की बहन बेटी पर अत्याचार करने का अंजाम सिर्फ और सिर्फ फांसी होती है

इसलिए हेमंत सरकार एवं राज्य के पुलिस महानिदेशक यह व्यवस्था सुनिश्चित करें कि आने वाले दिनों में इन दोनों हत्यारों को फांसी की सजा से कम सजा नहीं मुकर्रर की जानी चाहिए

उसके लिए तत्काल स्पेशल कोर्ट में 6 महीना के अंदर स्पीडी ट्रायल करके उसको फांसी दी जानी चाहिए

ताकि किसी की भी बेटी बहन ऐसे अमानवीय अत्याचार का शिकार ना हो सके।
श्री नायक ने आगे यह भी बताया कि मृतक छात्रा मूल रूप से जामा थाना क्षेत्र के भैरोपुर गांव की रहने वाली थी

जबकि आरोपी राजेश राउत जिले के हंसडीहा थाना क्षेत्र के महेशपुर गांव का रहने वाला है। युवती अपने नानी घर आयी हुई थी। गुरुवार की रात नानी के साथ सोई हुई थी।

तभी रात करीब एक बजे राजेश राउत ने वहाँ पहुँचकर सोई अवस्था में युवती पर पेट्रोल डाल कर आग लगा दिया जिसकी मंच कड़े शब्दों मे निंदा कराता है

इन्होंने यह भी कहा कि युवती का बयान मजिस्ट्रेट के समक्ष दर्ज कराया गया और आरोपी युवक गिरफ्तार कर लिया गया ।

अब जबकि युवती इस दुनिया में नहीं रहीं दुमका में दोबारा पेट्रोल कांड हुआ है  अगर इससे पूर्व के हत्यारों को फांसी की सजा हो जाती तो ऐसी घटना दुबारा नहीं होती

श्री नायक ने राज्य के सीएम हेमंत सोरेन से मांग किया कि वे पीड़िता के आश्रितों को जल्द से जल्द न्याय दिलाने का संकल्प कर दोषी को फांसी की सजा दिलाई जाय और आश्रितों को पचास लाख मुआवजा तथा एक को नौकरी देने हेतु तुरंत ठोस पहल करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें एक नजर में….