खतियान आधारित स्थानीय एवं नियोजन नीति हेमंत सरकार जल्द लागू नहीं करती है तो यह महाजुटान ट्रेलर है फिल्म मोराबादी मैदान में दिखायेंगे:लोबिन हेब्रम

झारखंड तो बना मगर झारखंडी समाज आज हाशिए पर खड़े: गीताश्री उरांव

RANCHI:  पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज भगवान बिरसा मुंडा को माल्यार्पण कर  विधायक एवं झारखंड बचाओ मोर्चा के मुख्य संयोजक  लोबिन हेम्ब्रम के द्वारा विशाल महाजुटान सह जनसभा कार्यक्रम का शुरुआत किया

कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में  लोबिन हेंब्रम ने कहा कि अगर खतियान आधारित स्थानीय नीति नियोजन नीति अगर हेमंत सरकार जल्द से जल्द लागू नहीं करती है तो यह जनसभा सह महाजुटान ट्रेलर भर है फिल्म मोराबादी मैदान में दिखाने का कार्य करेंगे

उन्होंने आगे कहा की जब जब सरकार पर संकट आता है तो हेमंत सरकार 1932 खतियान की बात करती है और उसके बाद वह इस मुद्दे को भूल जाना चाहती है

उन्होंने कहा की अब झारखंड की जनता अपने हक और अधिकार के लिए माटी की रक्षा के लिए जंगल की रक्षा के लिए जमीन की रक्षा के लिए संघर्ष करने का काम करने के लिए तैयार बैठी है और

जरूरत पड़ा तो इस मिट्टी को अपना खून भी देना पड़ा तो मैं देने के लिए तैयार हूं मगर अब कदापि झारखंड की माटी के साथ झारखंडी समाज के साथ उनके हक और अधिकार के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा ।

उन्होंने यह भी जोर देकर कहा कि बिहार बना बिहारियों के लिए पंजाब बना पंजाबियों के लिए उड़ीसा बना उड़िया के लिए मद्रास बना मद्रासी ओं के लिए तो झारखंड झारखंडी लोगों के लिए क्यों नहीं

उन्होंने उपस्थित जनसभा से यह संकल्प कराया की वह जिस तरह अलग झारखंड राज्य आंदोलन के लिए बलिदान त्याग देने का काम किया था सड़क पर संघर्ष करने का काम किया था

अब समय आ गया है कि वह अपने हक और अधिकार के लिए संघर्ष करने का काम करें झारखंड की मुक्ति हो चुकी है

मगर झारखंडी समाज की मुक्ति बाकी है जिसकी लड़ाई को आप लोगों के समर्थन से आप लोगों के आशीर्वाद से मंजिल तक झारखंड बचाओ मोर्चा पहुंचाने का काम करेगा

इस अवसर पर पूर्व शिक्षा मंत्री गीताश्री उरांव ने कहा कि 22 वर्ष काफी होते हैं किसी भी राज्य के लिए और राज्य वासियों के लिए झारखंड तो बना मगर झारखंडी समाज आज हाशिए पर खड़े हैं खान का दोहन हो रहा ह

मगर आज भी झारखंडी समाज गरीबी अभाव में जीने का काम कर रहा है

आज झारखंड गरीबी में दूसरे स्थान पर आ गया है उसका मुख्य कारण है कि झारखंड के सभी सरकारों ने खजाना को लूटने का काम किया

झारखंड के वासियों के लिए किसी भी सरकार में एक सोच और उनके देखे गए भावनाओं को समझने का काम नहीं किया

जिस कारण आज झारखंड में बेरोजगारी पलायन लूट का खसोट जारी है उन्होंने यह भी कहा कि समय रहते इस सरकार को जिसने वादा किया था कि

हमारी सरकार बनेगी तो हम खतियान आधारित स्थानीय नीति एवं नियोजन नीति लागू करने का काम करेंगे मगर यह सरकार 3 वर्ष हो चुका मगर इस नीति पर एक कदम भी आगे नहीं बढ़ी है

जिसकी हम मंच से निंदा करते हैं और जल्द से जल्द उनसे मांग करते हैं कि उन्होंने जो वादा किया है वो निभाने का कार्य करें अन्यथा इसके गंभीर परिणाम भुगतने के लिए उन्हें तैयार रहना होगा।

पूर्व सांसद चित्रसेन सिंकु ने कहा के हम  विधायक लोबिन हेंब्रम जी के नेतृत्व में झारखंडी समाज की मुक्ति झारखंडी समाज की खुशहाली के लिए हम गोलबंद होकर संघर्ष करने का काम करेंगे और

झारखंडी समाज के देखे गए सपने उनके भावनाओं जल जंगल जमीन की लड़ाई को मंजिल तक पहुंचाने का काम करेंगे

पूर्व विधायक मंगल सिंह बोबंग ने कहा जल जंगल जमीन बात करने वाली हेमंत सोरेन आज जल जंगल जमीन को लूटने वाले लोगों के साथ खड़ी है और जो सपने हमारे पूर्वजों ने देखा था उन सपनों को यह सरकार कुचलने का काम कर रही है

मगर मुझे आशा है कि सरकार जल्द ही झारखंडी भावनाओं को समझने का काम करेगी और किए गए वादों को पूरा करने का काम करेगी

इस अवसर पर विजय शंकर नायक ने कहा की सरकार जो वादा की है उसे निभाने का काम करें और खतियान आधारित नियोजन नीति को अविलंब लागू करने का काम करें अन्यथा

सरकार को यह समझना होगा कि काठ की हांडी एक ही बार चढ़ती है दूसरे बार नहीं चढ़ती है सरकार जो वादा किया है उसे पूरा करें और झारखंडी समाज के भावनाओं को समझें और उसके अनुरूप ही सरकार चलाने का का काम करें ।

अजय टोप्पो ने कहा कि हम भगवान बिरसा मुंडा के देखे गए सपने सिद्धू कानू चांद भैरव तिलकामांझी के सपनों को पूरा करने के लिए  विधायक लोबिन हेंब्रम के नेतृत्व में हम अंतिम दम तक संघर्ष करने का काम करेंगे ।

इस अवसर पर राजू महतो ने कहा कि हम और हमारा संगठन  विधायक लोबिन हेंब्रम के नेतृत्व में गोल बंद है और उनके संघर्ष मे अपनी प्रमुख भागीदारी निभाने का काम करेगी

और आदिवासी मूलवासी के हक और अधिकार की लड़ाई को मंजिल तक पहुंचाने में अपना सक्रिय योगदान देने का काम करेगी

प्रेम शाही मुंडा ने कहा कि झारखंड बना किसके लिए आज झारखंडी समाज दुख और भूख से पीड़ित है

मगर सरकार आज नीरो की तरह बंसी बजाने का काम कर रही है और सैर सपाटे करने का काम कर रही है

उन्होंने नियोजन नीति को अविलंब लागू करने सीएनटी एसपीटी एक्ट को लागू करने के लिए सरकार पर दबाव बनाने के लिए आने वाले दिनों में इससे भी बड़ा प्रोग्राम किया जाएगा ।

और सरकार को यह बताया जाएगा की जनता के विरुद्ध आप अगर गए तो आपकी खैर नहीं

इसलिए सरकार जल्द से जल्द स्थानीय नियोजन नीति एवं स्थानीय नीति लागू करने का काम करें

अजीत उरांव ने कहा के समय रहते सरकार हमारे उठाए गए सवालों को हल करने का काम करें और झारखंडी जनता के भावनाओं को समझने का काम करें

इस अवसर पर अल्विन लकड़ा ने कहा कि कि आज झारखंड के बेरोजगारों के साथ सभी सरकारों ने ठगने का काम किया जेपीएससी जैसा संस्था को एक सिफारिश संस्था बनाने का काम किया

झारखंड के बेरोजगार साथी आज रोजगार के अभाव में राज्य से बाहर जाने को मजबूर है मगर यह सरकार के कानों में अभी तक जू तक नहीं रहने का काम हो रहा है

इसलिए सरकार बेरोजगारों को रोजगार देने की दिशा में कदम उठा ले और स्थानीय नीति खतियान आधारित बनाए ताकि झारखंडी लोगों को ज्यादा से ज्यादा झारखंड में रोजगार मिले

 

हम झारखंड के हर एक गांव में जाकर इस मशाल को जलाने का काम करेंगे और अबुआ दिसुम अबुआ राज की स्थापना में अपना सक्रिय योगदान देने का काम करेंगे

इस अवसर पर स्वागत भाषण लक्ष्मीनारायण मुंडा  देते हुए तमाम दक्षिण छोटानागपुर प्रमंडल के विभिन्न जिलों के प्रखंडों विभिन्न पंचायतों से उपस्थित लोगों का स्वागत किया

 

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रेमचंद मुर्मू जी ने कहा की झारखंड सरकार एक ऐसी सरकार है जो झारखंड विरोधियों के गिरफ्त में उनकी गोदी में बैठी हुई है

और यह सरकार सिर्फ झारखंडी समाज को लॉलीपॉप दिखाकर ठगना चाहती है

जबकि इसके तमाम अधिकारी पदाधिकारी झारखंडी विरोधी है और वे जो भी काम कर रहे हैं झारखंड के विरोध में ही काम कर रहे हैं

और झारखंड के आदिवासी मूलवासी के रक्षा के लिए जो भी कुर्बानी देना पड़ेगा हम देने के लिए तैयार हैं

इस अवसर पर सुशील बारला सर्जन हँसदा ,रंजीत उराव,नरेश मुर्मू, विक्की पाहन, अभय भूत कुंवर, शनि सिंह, रमेश चंद्र उरांव, पंकज लाल सहदेव नेवी अपने विचार देने का काम किया सभा का संचालन अजय टोप्पो ने किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें एक नजर में….