बैचलर ऑफ़ साइंस इन फॉरेस्ट्री का रिजल्ट जारी, हसन सफीक टाँपर बने

 

RANCHI:  बिरसा कृषि विश्वविद्यालय, रांची के कुलसचिव डॉ एन कुदादा ने वानिकी संकाय के अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम में वर्ष 2018-19 अधीन अध्ययनरत सफल विद्यार्थियों की अधिसूचना जारी कर दी है.

अधिसूचना के मुताबिक एक्सटर्नल इवैल्यूएशन सहित सेमेस्टर सिस्टम में वानिकी संकाय के कुल 33 छात्रों को अहर्त्ता पूरी करने बैचलर ऑफ़ साइंस इन फॉरेस्ट्री डिग्री के लिए सफल घोषित किया गया है.

इनमें 11 छात्र एवं 22 छात्राएँ शामिल है.

सर्वाधिक 8.765/10.000 ओजीपीए अंक लाकर हसन सफीक इस बैच के टाँपर बने.

ज़ेबा सदाफ ने 8.643/10.000 ओजीपीए अंक लाकर द्वितीय तथा बलराम कुमार ने 8.448/10.000 ओजीपीए अंक लेकर तृतीय स्थान पर रहे है.

33 सफल छात्रों में से कुल 27 छात्रों ने 8.000/10.000 से अधिक ओजीपीए अंक हासिल किया है.

27 में से 18 छात्राओं ने 8.000/10.000 से अधिक ओजीपीए अंक हासिल की है. शेष 6 सफल छात्रों का ओजीपीए अंक 7.000/10.000 से अधिक है.

बैच के टाँपर हसन सफीक रामगढ़ जिले के चितरपुर निवासी है.

पिता व्यवसायी एवं माता गृहणी है. आईसीएआर – जेआरएफ की परीक्षा में सफल होकर उच्चतर शिक्षा हासिल करना चाहते है. यूपीएससी परीक्षा की तैयारी में जुटे है. उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अभिवावक, शिक्षकों एवं साथियों को दिया है.

असिस्टेंट रजिस्ट्रार डॉ पीआर उराँव ने बताया कि वानिकी संकाय के अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम के 2019-20 बैच के छठे सेमेस्टर में 39, 2020-21 बैच के तृतीय सेमेस्टर में 38 तथा 2021-22 बैच के द्वितीय सेमेस्टर में 34 छात्र-छात्राएँ अध्ययनरत है. कोविड-19 के उपरांत ऑफ लाइन मोड में सभी शैक्षणिक गतिविधियों का नियमित संचालन हो रहा है.

सभी सफल छात्रों को डीन फॉरेस्ट्री डॉ एमएस मल्लिक, डिप्टी रजिस्ट्रार डॉ एस चट्टोपाध्याय, असिस्टेंट रजिस्ट्रार डॉ पीआर उराँव, डॉ एसएमएस कुली, डॉ कौशल कुमार, डॉ आरबी साह, डॉ बसंत चन्द्र उराँव, डॉ आशीष कुमार चक्रवर्ती, डॉ जेके केरकेट्टा, डॉ अनिल कुमार, डॉ जय कुमार, डॉ एके तिवारी, डॉ सुनील कुमार, एसजे बखला, पी तिर्की, निकिता कुमारी एवं एके सिंह ने मंगलमय जीवन की शुभकामना एवं बधाई व्यक्त की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *