बोकारो एवं दुमका हवाई अड्डे के लिए लाइसेंस देने की प्रक्रिया शुरू

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अजय मारू को दी जानकारी

RANCJI : नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने झारखंड से राज्यसभा के पूर्व सदस्य अजय मारू को जानकारी दी है कि दुमका एवं बोकारो हवाई अड्डों के लिए लाइसेंस देने का कार्य प्रगति पर है.

पूर्व सांसद अजय मारू ने नागर विमानन मंत्री को 12 जुलाई 2022 को एक पत्र लिखकर उनसे बोकारो यम दुमका हवाई अड्डों को अमलीजामा पहनाने का अनुरोध किया था.

इस पत्र के आलोक में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि दुमका एवं बोकारो हवाई अड्डे क्रमशा: झारखंड सरकार एवं स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया( सेल) के अधीन आते हैं.

श्री सिंधिया ने कहा कि नागर विमानन द्वारा शुरू की गई क्षेत्रीय समकर्ता योजना उड़ान के अंतर्गत बोली के दूसरे दौर में दुमका एवं बोकारो की पहचान आरसीएस उड़ानों के विकास और संचालन के लिए की गई थी.

एटीआर-72 प्रकार के विमानों के लिए बोकारो एवं डीओ-228/ट्विन ओटर क्रिटिकल एयरक्राफ्ट के लिए दुमका हवाई अड्डे का विकास कार्यक्रम से 71 करोड़ और 28 करोड़ के व्यय के साथ पूरा कर लिया गया है तथा इन हवाई अड्डों को लाइसेंस देने का कार्य प्रगति पर है.

इसके उपरांत बोकारो दुमका से क्षेत्रीय संमकर्ता योजना उड़ान के प्रावधानों के अनुसार आरसीएस उड़ान शुरू की जाएगी.

श्री मारू ने पत्र के जवाब में बोकारो एवं दुमका हवाई अड्डे की वर्तमान स्थिति से अवगत कराने के लिए नागर विमानन मंत्री को साधुवाद दिया है.

इन दोनों हवाई अड्डे से उड़ान की प्रक्रिया शुरू करने से विमान यात्रियों को सुविधा हो जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *