मुख्यमंत्री से मिले यशवंत सिन्हा, राष्ट्रपति पद के लिए समर्थन मांगा

RANCHI :  राष्ट्रपति पद के लिए यूपीए प्रत्याशी यशवंत सिन्हा ने आज झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष- सह – मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से मुलाकात की। श्री सिन्हा ने मुख्यमंत्री से राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव में अपने पक्ष में समर्थन की अपील की ।

इस मौके पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडेय, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर और ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि झामुमो के केन्द्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन ने हाल ही में राष्ट्रपित चुनाव में झामुमो की ओर से द्रोपदी मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा की थी। जिसका राजनीतिक गलियारे में काफी चर्चा होने लगी कि राष्ट्रपति चुनाव के बाद झामुमो एनडीए खेमे में जा सकता है। जानकारों का कहना है कि राजनीति में सब कुछ संभव है। महाराष्ट्र के तर्ज पर झारखंड में भी सत्ता में भागीदारी के लिए भाजपा नया खेल को अंजाम दे सकती है।

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि झारखंड में भाजपा अपने खोयी सत्ता को पाने के लिए हर संभव प्रयास या यह कहें साम,दाम, दंड और भेद का  फर्मूला अपना सकती है। जिसका असर झारखंड की राजनीति पर पड़ेगा। जानकारों का कहना है कि केन्द्र में भाजपा की सरकार अपने पद और पावर का इस्तेमाल करने से पीछे नहीं रहेगी।

इसका ताजा उदाहरण ईडी के द्वारा आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल और मुख्यमंत्री के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के ठिकानों पर छापेमारी किया जाना और करोड़ों रुपये खनन घोटाले का पर्दाफाश होना, वहीं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और उनके भाई बंसत सोरेन पर भी भ्रष्टाचार  के आरोप लगे हैं। उपरोक्त मामले हेमंत सरकार के लिए गले की हड्डी साबित हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *