बदहाल है बिजली, सड़कों की भी जर्जर स्थिति : डॉ लंबोदर महतो

गोमिया विधायक ने संबंधित सचिवों से मिलकर कराया ध्यान आकृष्ट, स्थिति में अविलंब सुधार लाने के दिए निर्देश

 

RANCHI:  गोमिया विधायक डॉ. लंबोदर महतो ने अपने विधानसभा क्षेत्र में बिजली आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी रखने, जर्जर हो चुके बिजली के तार व पोल को बदलने, सड़क, पुल व तीनों प्रखंडों में अलग-अलग निरीक्षण भवन का निर्माण कराने और रिक्त कार्यपालक अभियंता के पद पर नियमित पदस्थापन को लेकर संबंधित विभाग के सचिवों से आज अलग-अलग मिलकर अपनी बात रखी है

और इसको लेकर प्रस्ताव भी सौंपा है। उन्होंने ऊर्जा विभाग के सचिव अविनाश कुमार, पथ निर्माण विभाग व भवन निर्माण विभाग के सचिव सुनील कुमार से नेपाल हाउस सचिवालय और प्रोजेक्ट बिल्डिंग सचिवालय जाकर मुलाकात की और विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया।

उन्होंने ऊर्जा विभाग के सचिव अविनाश कुमार को विधानसभा क्षेत्र में अनियमित रूप से हो रही विद्युत आपूर्ति को नियमित व सुचारू रूप से जारी रखने को लेकर चर्चा की। चर्चा के क्रम में डीवीसी एवं झारखंड बिजली बोर्ड द्वारा बिजली कटौती पर नाराजगी जतायी। साथ ही उन्होंने ललपनिया सब स्टेशन को शीघ्र चालू कराने की जरूरत बताया।

उन्होंने कहा कि ऐसा होने से ही ललपनिया व आसपास के इलाकों में बिजली आपूर्ति सुचारू रूप से जारी रह सकता है। उन्होंने सचिव को यह भी बताया कि पूरे विधानसभा क्षेत्र में अनेकों स्थानों पर जर्जर बिजली के तार आसानी से देखने को मिल जाएंगे, बिजली तार के लिए लगे पोल की भी स्थिति अच्छी नहीं है।

कई स्थानों पर ट्रांसफार्मर बदले जाने की भी आवश्यकता है। इससे पूर्व उन्होंने पथ निर्माण विभाग के सचिव से बहादुरपुर से लेकर सेवाती घाटी भाया चतरो चट्टी सड़क की जर्जर स्थिति से अवगत कराया और इसकी शीघ्र मरम्मत कराने पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि गझंड़ी से हुरलुंग भाया चतरो चट्टी पथ, ललपनिया से रजरप्पा भाया बड़की पुन्नू, गोला प्रखंड के डभातु से कसमार प्रखंड के खुदी बेड़ा हिसिम चौक भाया हिसीम केदला पथ एवं दातु एनएच 23 से ओरमो मधुकरपुर होते हुए बगियारी मोड़ तक पथ निर्माण कराने की आवश्यकता है।

इसके अलावा उन्होंने गोमिया एवं होसिर के बीच बोकारो नदी में उच्च स्तरीय पुल और ललपनिया एवं तुलबुल के बीच छरछरिया नाला में उच्च स्तरीय पुल निर्माण कराने की भी बात कही। इस इसके साथ ही उन्होंने भवन निर्माण विभाग के सचिव से पेटरवार, कसमार व गोमिया प्रखंड में अलग-अलग निरीक्षण भवन का निर्माण कराने की आवश्यकता जताया।

कहा कि इन इलाकों में आए दिन वीआईपी मूवमेंट होता रहता है। इन इलाकों में सरकार के द्वारा किसी तरह का सुव्यवस्थित एवं सुसज्जित सरकारी भवन नहीं है। उन्होंने बोकारो एवं धनबाद जिले में विगत कई महीनों से कार्यपालक अभियंता के रिक्त पड़े पद की भी सचिव का ध्यान आकृष्ट कराया और उनसे इस पद पर नियमित पदस्थापन करने या प्रतिनियुक्ति करने की बात कही।

उन्होंने कहा कि कार्यपालक अभियंता के नहीं रहने से दोनों जिलों में विभागीय सभी काम लंबित हैं। उन्होंने सचिव को इस बात से भी अवगत कराया कि पदाधिकारियों कर्मचारियों का वेतन भुगतान भी लंबित है। गोमिया विधायक की सचिवों ने बातों को सुन और मिले प्रस्ताव को देख जरूरी कदम उठाने को लेकर संबंधित पदाधिकारियों को निर्देशित किया। इससे पहले उन्होंने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग और जल संसाधन विभाग के सचिव से मिलकर दोनों विभागों से संबंधित अपने विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं को रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें एक नजर में….