देवघर में डाक्टरों के साथ मारपीट मामले में जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो झासा उग्र आंदोलन करेगा: डॉ बिमलेश सिंह

RANCHI: झारखंड राज्य स्वास्थ्य सेवा संघ राज्य इकाई के सचिव डॉ बिमलेश सिंह ने  कहा कि  देवघर सदर अस्पताल में डाक्टरों के साथ मारपीट में शामिल लोगों की जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो झासा के डाक्टरों का आंदोलन  उग्र रूप ले लेगा. विगत सप्ताह सदर अस्पताल में एक ही दिन दो चिकित्सा पदाधिकारियों के साथ मार पीट की घटना घटी,इस घटना के विरोध में देवघर आई एम ए एवं झासा के सदस्यों ने कार्यबहिष्कार किया था,जिसके अगले दिन जिला प्रशाषन ने वहाँ के अनुमंडल पदाधिकारी एवं पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी को चिकित्सको के धरना स्थल पर भेज कर ये आश्वशन दिलाया था कि दोनों घटनाओं में शामिल बचे हुए चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी सात दिनों के अंदर कर ली जाएगी साथ ही सदर अस्पताल देवघर में सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती की जाएगी।परन्तु अब तक भी किसी की गिरफ्तारी नही हुई है और ना ही सदर अस्पताल में सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती हुई है।सबसे हैरानी की बात है कि परिजनों द्वारा हमारे चिकित्सक पर ही आरोप लगा कर केस दर्ज कराया गया है।झासा की तरफ से राज्य सरकार,एवं देवघर जिला प्रशाषन से हमारी मांग है कि आज छः दिन हो गए है,24 घंटे के अंदर पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करे, साथ ही सदर अस्पताल में समुचित सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराया जाए और हमारे जिस चिकित्सक पर भी आरोप लगाया गया है उस पर निष्पक्ष जाँच की जाए।अगर इन सभी मांगों को समयावधि में पूरा नही किया गया तो झासा फिर से अपने आंदोलन को ले कर रणनीति बनाएगी और राज्य स्तर पर कार्यबहिष्कार जैसे फैसले भी लिए जा सकते,क्योंकि आये दिन इस तरह की घटनाओं से चिकित्सक का मनोबल गिराने का काम किया जा रहा है,चिकित्सक असुरक्षित महसूस कर रहे है,झासा अपने चिकित्सको के प्रति संकल्पित हो कर मजबूती से साथ खड़ी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *