झारखंड आईएमए ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर चिकित्सकों को प्रताड़ित किये जाने के खिलाफ कार्रवाई की लगायी गुहार

धनबाद के सभी डॉक्टर नौ मई को जायेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

RANCHI: झारखंड आईएमए ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र को लिखकर राज्य से चिकित्सकों को पलायन किये जाने एवं प्रताड़ित किये जाने के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। अगर जल्द से जल्द कार्रवाई नहीं किया गया तो राज्यभर के चिकित्सक बाध्य होकर हड़ताल पर चले जायेंगे। राज्य आईएमए के अध्यक्ष डॉ एके सिंह एवं महासचिव डॉ प्रदीप कुमार सिंह ने संयुक्त रुप से पत्र लिखकर मुख्यमंत्री को बताया है कि गत दिनों धनबाद के सर्जन डॉ समीर कुमार से धनबाद जेल में बंद कुख्यात अपराधी द्वारा मोबाइल फोन पर रंगदारी स्वरुप एख करोड़ रुपये और साथ में हर माह पांच लाख रुपये की मांग की गयी है। रंगदारी नहीं दिये जाने पर पूरे परिवार को जान से मार देने की धमकी दी जा रही है। इस घटना की जानकारी लिखित रुप से धनबाद एसएसपी से मिलकर गुहार लगायी गयी है। लेकिन इसके बावजूद फोन पर धमकी दी जा रही है। दुखद स्थिति यह है कि डॉ समीर कुमार परिवार समेत हमेशा के लिए धनबाद छोड़ देने की खबर मिल रही है। उनके नर्सिंग होम में ताला लग चुका है। दूसरी घटना धनबाद आईएमए सचिव डॉ सुशील कुमार सिंह के साथ वारदात हुई है डॉ सुशील अपने परिवार के साथ तारापीठ से लौटने के क्रम में धनबाद स्थित गोविंदपुर में तीन युवकों द्वारा उनकी गाड़ी को रोककर गलत नीयत से झगड़ा करने तथा कार का शीशा को तोड़ा गया। किसी तरह जान बचाकर भागे डॉ सुशील गोविंदपुर थाने में लिखित FIR किया गया लेकिन अभी तक अपराधी पकड़े नहीं गये। जबकि सीसीटीवी फुटेज भी उपलब्ध है। डॉ सिंह ने बताया कि धनबाद आईएमए ने 9 मई को अनिश्चितकाल तक हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। उक्त घटना से सभी चिकित्सक भयभीत वातावरण में कार्य करने को बाध्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *