वैट पर राज्य के वित्त मंत्री का बयान हास्यास्पद और शर्मनाक : दीपक प्रकाश

RANCHI: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने झारखंड के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करने में असमर्थता जताने वाले बयान की आलोचना की है। श्री प्रकाश ने कहा कि राज्य के वित्त सह खाद्य आपूर्ति मंत्री कहते हैं कि राज्य यह अतिरिक्त बोझ क्यों उठाए ? उनका यह बयान पूरी तरह हास्यास्पद और शर्मनाक है।

श्री प्रकाश ने कहा है कि झारखंड सरकार के पास सीएम और मंत्रियों के लिए लग्जरी वाहनों और आलीशान बंगलों के लिए फंड की कोई कमी नहीं है और ना ही यह फिजूलखर्ची है। मुख्यमंत्री और मंत्रियों के लिए मर्सिडिज बेंज, लैंड रोवर डिस्कवरी, बीएमडब्ल्यू आदि चमचमाती और नई लग्जरी वाहनों की खरीददारी सरकार की नजर में कोई अतिरिक्त खर्च नहीं है परंतु जब राज्य की जनता को, गरीबों को राहत देने की बात आती है तब झारखंड सरकार का विधवा विलाप शुरू हो जाता है।

श्री प्रकाश ने कहा कि झारखंड सरकार बिजली का भुगतान कर ही नहीं पा रही है। राज्य के लोगों को टीका दिला ही नहीं पा रही है। डीएमएफटी फंड का दुरुपयोग किया जा रहा है। कहा जा सकता है कि आर्थिक कुप्रबंधन के कारण हेमंत सोरेन सरकार ने राज्य का बंटाधार करके छोड़ दिया है।

श्री प्रकाश ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पिछले दिनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए पेट्रोल – डीजल पर वैट कम करने का सुझाव देकर जनता को राहत देने की बात कही थी परंतु झारखंड सरकार के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है। झारखंड सरकार वैट में कमी नहीं करके जनता के साथ धोखा कर रही है। जिस तरह केंद्र सरकार ने एक्साइज ड्यूटी में कमी की है, उसी तरह झारखंड सरकार विधवा विलाप छोड़ कर तत्काल वैट में कमी करे, ताकि आम लोगों को राहत मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *