गोडसे भक्तो की अपील, बोले- जहां-जहां लगीं गांधी की मूर्ति वहां लगे गोडसे की प्रतिमा

ग्वालियर । एक बार फिर ग्वालियर (Gwalior) में स्थित हिंदू महासभा कार्यालय (Hindu Mahasabha Office) में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) पर अशोभनीय टिप्पणी की गई है. महासभा के सदस्य और मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी पंडित सुधाकर चतुर्वेदी ने महात्मा गांधी को लेकर कहा कि ” देश क्रांतिकारियों का हैं, यह देश किसी गांधी या टकले का नहीं है. मोहनदास करमचंद गांधी से इस देश का कोई संबंध नहीं है, वह पाकिस्तान के राष्ट्रपिता है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गांधी 1947 से बेवजह रुपयों पर फोटो, देश के हजारों चौराहों पर प्रतिमा, हजारों रोड इनके नाम पर हैं.

नाथूराम गोडसे का पुतला लगाया जाए
सुधाकर चतुर्वेदी ने आव्हान किया है कि गांधी का जहां-जहां पुतला है, वहां से उसे हटाकर नाथूराम गोडसे का पुतला लगाया जाए. उन्होंने कहा ग्वालियर कार्यालय के साथ ही देश भर के हिन्दू महासभा कार्यालयों में, चौक -चौराहों पर गोडसे का पुतला लगाया जाए.

बैठक में शामिल होने पहुंचे थे
सुधाकर चतुर्वेदी दौलतगंज स्थित हिन्दू महासभा कार्यालय बैठक में शामिल होने पहुंचे थे. सुधाकर चतुर्वेदी हिंदूवादी संगठन के उतिष्ठ भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष है. वो हिंदुओं को जाग्रत करने देश भृमण पर निकले हैं.