सियासी संकट का सामना कर रहे इमरान खान को मिला रूस का सहारा

मॉस्को । पाकिस्तान में सियासी संकट का सामना कर रहे इमरान खान को अब रूस का सहारा मिला है। लगातार एक शक्तिशाली देश पर अपनी सरकार को अस्थिर करने का आरोप लगा रहे इमरान की बात का समर्थन रूस ने किया है। रूस ने कहा है कि अमेरिका इमरान को फरवरी माह में मॉस्को यात्रा की सजा देकर उन्हें अस्थिर कर रहा है।

पाकिस्तान में विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव को लेकर निवर्तमान प्रधानमंत्री अंतरराष्ट्रीय साजिश का आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि अमेरिका से उनके पास सरकार गिराने की धमकी वाला पत्र भी आया था। बीते शुक्रवार को उन्होंने अमेरिका का नाम लिया बिना कहा था कि एक शक्तिशाली देश उनकी रूस यात्रा से नाराज हो गया था। साथ ही उन्होंने कहा कि एक बहुत शक्तिशाली देश ने उनसे पूछा कि वे रूस क्यों गए। वे एक देश से पूछ रहे हैं कि हम रूस क्यों गए। इसी लिए वे हमसे नाराज हैं। उनके इस बयान को अमेरिका से संदर्भित किया गया था किन्तु रूस ने खुलकर अमेरिका पर आरोप लगा दिया है।

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जाखारोवा ने एक बयान में कहा कि 23-24 फरवरी को इमरान खान की रूस यात्रा की घोषणा के बाद से ही अमेरिका व उसके समर्थक देशों ने इमरान पर रूस की यात्रा न करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया था। इसके बावजूद जब इमरान आ गए तो वाशिंगटन में पाकिस्तान के राजदूत को बुलाकर यात्रा तुरंत रद करने को कहा गया। इसके बावजूद ऐसा न होने पर इमरान को पद से हटाने की कोशिशें शुरू हुईं। उन्होंने अमेरिका के कृत्य को किसी देश के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करार दिया।