हीरों और रूसी गैस से अधिक मूलयवान शांति- जेलेंस्की

(कीव) : रूस के आक्रमण से यूक्रेन के तमाम शहर तबाह हो रहे हैं। एक महीने से ज्यादा अवधि से जमीन और हवाई हमलों का सामना कर रहे यूक्रेन ने दावा किया है कि रूस संघर्ष विराम का वादा नहीं निभा रहा। संघर्ष विराम के वादे के बावजूद उसने अबतक मैरियूपोल शहर को घेर रखा है।

यूक्रेन का कहना है कि रूस ने शांतिवार्ता के बाद हमलों को रोकने और नागरिकों को घिरे शहर को खाली करने की अनुमति देने का वादा किया था। इसे वह नहीं निभा रहा है। इस बीच सूचना है कि रूस ने खारकीव शहर में गैस पाइपलाइन पर फिर मिसाइल से हमला किया है।

युद्धग्रस्त यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने गुरुवार को बेल्जियम के सांसदों को संबोधित कर अपना पक्ष रखा। जेलेंस्की ने कहा कि शांति जरूरी है। हीरों और रूसी गैस से अधिक मूल्यवान शांति है। इस घटनाक्रम पर भारत की भूमिका पर अमेरिका ने अहम टिप्पणी की है। अमेरिका ने कहा है कि रूस से भारत अपनी दोस्ती को कायम रखे पर युद्ध के इस तरह के हालात पर चिंता जरूर करे।