इंदौर पुलिस ने मंगलवार देररात 500 से अधिक अपराधियों के घर मारा छापा

(इंदौर) : शहर की पुलिस मंगलवार देर रात अचानक एक्शन में नजर आई। पुलिस के सैकड़ों जवानों ने करीब 500 से ज्यादा अपराधियों के घर छापा मारा। होटल, पब, बारों में भी छापे मारे। सैंकड़ों लोगों को हिरासत में लिया गया। जिले के सारे थाने सुबह तक अपराधिक तत्वों से भर गए।
पुलिस आयुक्त हरिनारायणाचारी मिश्र के मुताबिक अभियान के लिए दोपहर में ही रुपरेखा तैयार कर ली गई थी। डीसीपी अमित तोलानी ,संपत उपाध्याय, धर्मेंद्रसिंह भदौरिया व राजेश कुमार सिंह ने अपने अपने क्षेत्र में कार्रवाई के लिए तैयारी कर ली थी। रात 11 बजे सभी डीसीपी ने बल एकत्र कर उन स्थानों को चिन्हित कर लिया, जहां दबिश दी जाना थी। सभी एडिशनल डीसीपी, एसीपी व थाना प्रभारियों ने टीमें बनाई और देर रात छापे मारकर 500 से ज्यादा आपराधिक तत्वों को पकड़ लिया। पुलिस ने अलसुबह तीन बजे तक अभियान चलाया और अलग अलग तरह की कार्रवाई की।
अभियान के दौरान विजय नगर थाना पुलिस ने अपोलो प्रीमियर बिल्डिंग में चल रहे रिवोल्यूशन और पियानो पब पर छापा मारा। देर रात खुला होने से पुलिस ने यहां से डीजे,साउंड सिस्टम और कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया। इनके विरुद्ध कोलाहल अधिनियम के तहत कार्रवाई की है। इसी तरह भंवरकुआं थाने ने सपना बार,सुरभि बार और तंदूर बार पर छापा मारा। इसके बाद द्वारकापुरी पुलिस को लेकर एडिशनल डीसीपी प्रशांत चौबे सिकलीगरों के घर पहुंचे और दबिश दी गई। पुलिस ने सुनील सिकलीगर के यहां से तलवारें जब्त की, जबकि कुंदन व अन्य के घरों की तलाशी ली।
गौरतलब है कि लगातार शहर में हो रही अपराधिक घटनाओं के चलते पुलिस पर सवालिया निशान खड़े हो रहे थे। ऐसे में अपराधियों में डर पैदा करने और अपराध पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस आयुक्त के निर्देश पर विशेष अभियान चलाया गया।