संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का निर्देश, तालिबान लड़कियों के स्कूल खोले

न्यूयॉर्क । संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने तालिबान को अफगानी लड़कियों के स्कूल खोलने के निर्देश दिए हैं। अफगानिस्तान में तालिबान के काबिज होने के बाद से वहां लड़कियों की पढ़ाई रुक गई है। पिछले बुधवार को अफगानिस्तान में लड़कियों के स्कूल खुले। मगर तालिबान ने इन स्कूलों को फौरन बंद करवा दिया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इस पर दखल दिया है।

पिछले साल अगस्त में तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान में लड़कियों के स्कूल लगातार बंद हैं। अंतरराष्ट्रीय दबाव और मान्यता की आस में तालिबान ने 23 मार्च से लड़कियों के स्कूल खोलने का आदेश जारी किया था। मगर कुछ ही घंटे बाद तालिबान ने इनको पुन: बंद करने का आदेश दिया। स्कूल पहुंचीं छात्राएं आंसुओं के साथ घर लौट गईं।

अब संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अफगानिस्तान में सत्तारूढ़ तालिबान को निर्देश दिया है कि वह अफगानी बेटियों के शिक्षा के अधिकार को बहाल करे। उनके लिए स्कूल फिर से खोले जाएं। अल्बानिया, ब्राजील, फ्रांस, गैबॉन, आयरलैंड, मैक्सिको, इंग्लैंड, अमेरिका, नॉर्वे और संयुक्त अरब अमीरात की ओर से संयुक्त अरब अमीरात और नॉर्वे के स्थायी प्रतिनिधियों द्वारा दिए गए एक संयुक्त बयान में सदस्यों ने इसके लिए तालिबान की आलोचना की है। सुरक्षा परिषद ने कहा कि इस हफ्ते 10 लाख से अधिक अफगानी बेटियां स्कूल लौटने को तैयार हो रही थीं, लेकिन उनकी उम्मीदें आखिरी मिनट में धराशायी हो गईं जब उन्हें पता चला कि शिक्षा के अधिकार से उन्हें अब भी वंचित रखा जाएगा। सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने कहा कि तालिबान का हालिया फैसला परेशान करने वाला है।