पाकिस्तान में इमरान सरकार संकट में , शहबाज शरीफ हो सकते है नय पीएम

(इस्लामाबाद) : अविश्वास प्रस्ताव पर 25 मार्च को मतदान होने से पहले ही विपक्ष पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की विदाई तय मान रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी ने नवाज के भाई शहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार भी घोषित कर दिया है।

2018 में अस्तित्व में आई थी इमरान सरकार 

वर्ष 2018 में पाकिस्तान की सत्ता संभालने के बाद से प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार इस समय सर्वाधिक बुरे दौर से गुजर रही है। पाकिस्तान के विपक्षी दलों ने इमरान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है और इस प्रस्ताव पर चर्चा व मतदान के लिए 25 मार्च को नेशनल एसेंबली की बैठक बुलाई गयी है। पाकिस्तान का विपक्ष इमरान को देश की अर्थव्यवस्था व विदेश नीति के कुप्रबंधन के लिए दोषी मानता है। साथ ही इस अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के दौरान इमरान की पार्टी के भी कई सांसदों ने उनके खिलाफ वोट देने का फैसला किया है।

शहबाज शरीफ हो सकते है नय पीएम 

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने प्रधानमंत्री पद के लिए अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर दी है। नवाज शरीफ की बेटी और पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने बताया कि पार्टी ने शहबाज शरीफ को पीएम पद का प्रत्याशी बनाने का फैसला लिया है।

इमरान सरकार का हुआ खेल ख़त्म 

मरियम ने इमरान खान के खिलाफ लाए जा रहे अविश्वास प्रस्ताव के सफल होने की उम्मीद जताई है। मरियम नवाज ने कहा कि इमरान खान का खेल खत्म हो गया है। सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) आधिकारिक तौर पर टूट गया है। पीएम इमरान को पता है कि अब कोई भी उनके बचाव में नहीं आएगा क्योंकि वह खेल हार गए हैं।