रूस से मुकाबला करने के लिए यूक्रेन को घातक हथियार देगा अमेरिका

वाशिंगटन । यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध के बीच अमेरिका ने यूक्रेन को घातक हथियार देने का ऐलान किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की को आश्वस्त किया है कि इन्हें हरसम्भव अतिरिक्त सैन्य सहायता देने के लिए अमेरिका कृत संकल्प है।

बुधवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की के अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनों के सदस्यों को वर्चुअली संबोधन के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने व्हाइट हाऊस में ब्रिफिंग की। बाइडेन ने कहा कि वह जेलेंस्की और उनके नौजवानों के शौर्य की सराहना करते हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेन को अस्सी करोड़ डालर के मूल्य की अतिरिक्त सैन्य सहायता अपने आप में अभूतपूर्व है। अमेरिका अब तक यूक्रेन को एक अरब डॉलर से अधिक की अतिरिक्त मदद करने का ऐलान कर चुका है।

बाद में व्हाइट हाऊस प्रवक्ता ने बताया कि इस सैन्य सहायता में छह सौ लड़ाकू विमान भेदी स्टिंगर मिसाइलें हैं तो 2600 जेवलिन मिसाइलें हैं, जो रूसी टैंकों को भेदने में कारगर सिद्ध हुई हैं। इनके अलावा लड़ाकू हेलीकाप्टर और बड़ी संख्या में मिलिटरी वाहन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि वह यूक्रेन की ओर से नो फ़्लाई ज़ोन की मांग को तो पूरा नहीं कर सकते। इस मांग को पूरी किए जाने का अर्थ यूरोप में रूस से सीधे लड़ाई मोल लेना है। ऐसा करने से यह लड़ाई यहीं नहीं रुकेगी, यह विश्व युद्ध में बदल सकती है।

खबरें एक नजर में….