ग्वालियर को स्वच्छता में नम्वर 1 बनाया जायेगा – ज्योतिरादित्य सिंधिया

ग्वालियर में शनिवार को वो हुआ, जो पहले कभी नहीं हुआ। सिंधिया राजघराने से पहली बार किसी ‘महाराज’ ने सड़क पर झाड़ू लगाई। ये हैं, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया। उन्होंने शनिवार सुबह वार्ड-58 की एक गली में साफ-सफाई की, साथ ही सफाईकर्मी के पैर भी छुए। सिंधिया का यह नया रूप भाजपा आने के बाद ही दिखा। उनको 11 मार्च को भाजपा में शामिल हुए दो साल हो चुके हैं।

झाड़ू लगाने से पहले सिंधिया ने महाराज बाड़े पर तीन सफाई कर्मचारियों का सम्मान किया। स्वच्छता अभियान की रैली को हरी झंडी दिखाई। लोगों को प्रेरित किया कि वे भी अपने-अपने वार्ड में सफाई अभियान चलाएं। इस दौरान सांसद विवेक शेजवलकर, प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट समेत कई बड़े नेता मौजूद रहे।

शहर में निकाला स्वच्छता रथ
स्वच्छता महोत्सव वार्ड स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। इसका मकसद शहर में स्वच्छता का माहौल बनाना है। जन-जन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना एवं स्वच्छता में सहभागिता के लिए प्रेरित करना है। इस अभियान के तहत शहर के हर वार्ड में सुबह संबंधित वार्ड के किसी व्यक्ति विशेष या अन्य जनप्रतिनिधि के नेतृत्व में स्वच्छता रथ निकाला गया। इसे केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

ग्वालियर को सफाई में नंबर-1 बनाने की कवायद
सिंधिया ग्वालियर को साफ-सुथरा बनाने के लगातार प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने इंदौर के स्वच्छता मॉडल को समझने के लिए ग्वालियर नगर निगम की टीम को भी वहां भेजा था, लेकिन यह उतना कारगर साबित नहीं हुआ, जितनी सिंधिया को उम्मीद थी। अभी स्वच्छता को लेकर ग्वालियर के लोगों का फीडबैक केवल साढ़े तीन हजार है। ऐसे में अब ज्योतिरादित्य सिंधिया की अगुआई में स्वच्छता महोत्सव मनाया जा रहा है। सिंधिया का यह झाड़ू लगाना लोगों के बीच चर्चा में रहा।

खबरें एक नजर में….