महारानी एलिजाबेथ की घोषणा-प्रिंस चार्ल्स के किंग बनने पर कैमिला होंगी नई महारानी

लंदन। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय(Britain’s Queen Elizabeth II) ने प्रिंस चार्ल्स (Prince Charles) के राजा(King) बनने उनकी पत्नी कैमिला (Camilla) को देश की नई महारानी (Queen Consort) बनाए जाने का एलान कर दिया है। महारानी बनने की 70 वीं सालगिरह के मौके पर एलिजाबेथ (Elizabeth ) ने यह घोषणा की। प्रिंस चार्ल्स (Prince Charles) ने अपनी पहली प्रिंसेस डायना की एक हादसे में मृत्यु के बाद कैमिला से विवाह किया था।
महारानी एलिजाबेथ (Queen Elizabeth) ने ब्रिटेन(Britain) की जनता के नाम एक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने लिखा कि यह अवसर उन्हें ब्रिटेन की जनता द्वारा उनके प्रति दिखाए गए स्नेह व वफादारी पर विचार करने का विराम देता है। उन्होंने कहा कि वह चाहेंगी कि जब प्रिंस चार्ल्स राजा बनें तो कैमिला को क्वीन कंसोर्ट की उपाधि मिले।
चार्ल्स व उनकी प्रेमिका कैमिला लंबे समय से साथ हैं। उन्होंने 2005 में विंडसर महल में समारोहपूर्वक शादी की थी। एलिजाबेथ के इस एलान से कैमिला को राजपरिवार के सदस्य के रूप में मान्यता मिल गई है। महारानी एलिजाबेथ 6 फरवरी, 1952 को उस समय ब्रिटेन की महारानी बनी थी जब उनके पिता किंग जार्ज षष्टम का अचानक निधन हो गया था।

ब्रिटेन की जनता से जताई उम्मीद
महारानी एलिजाबेथ ने अपने पत्र में कहा, ‘जब भी समय आएगा और मेरा बेटा चार्ल्स राजा बनेगा, मैं जानती हूं कि आप उसे व उसकी पत्नी कैमिला को वैसा ही समर्थन प्रदान करेंगे, जैसा मुझे दिया। यह मेरी हार्दिक इच्छा है कि जब समय आए तब कैमिला को क्वीन कंसोर्ट माना जाए और इसी रूप में वह अपनी सेवाएं दें।’

एलिजाबेथ 70 साल से हैं महारानी
एलिजाबेथ केक महारानी बनने के सालगिरह समारोह का आयोजन इंग्लैंड के पूर्व में मौजूद रॉयल सैंड्रिघम हाउस में किया गया। 95 साल की एलिजाबेथ ब्रिटेन पर 70 साल राज करने वाली ब्रिटेन की पहली शासक हैं। महारानी के ताजा एलान के बाद उन अटकलों पर भी विराम लग गया है, जिनमें कहा जा रहा था कि वह जल्द शाही पद छोड़ सकती हैं।

अभी कैमिला हैं डचेस ऑफ कार्नवाल
कैमिला अभी ‘डचेस ऑफ कानर्वाल’ कहलाती हैं। महारानी एलिजाबेथ के ताजा एलान से अब वह ब्रिटेन के शाही परिवार के सरकारी कामकाज में नियमित रूप से भाग लेंगी।

क्या होती हैं क्वीन कंसोर्ट
ब्रिटिश इतिहास में वर्षों से राजा की पत्नी को क्वीन कंसोर्ट का दर्जा दिया जाता है। उसे संवैधानिक अधिकार नहीं होते हैं। जब प्रिंस चार्ल्स की कैमिला से शादी हुई थी तब आधिकारिक तौर पर यह फैसला हुआ था कि यदि चार्ल्स किंग बनते हैं तो कैमिला को ‘ प्रिंसेस कंसोर्ट’ माना जाएगा।