सर्दी के मौसम में बढ़ जाता है बीमारियों का खतरा, बच्‍चों के बचाव में काम आएंगी ये टिप्‍स

नई दिल्ली: सर्दी का मौसम (winter season) आपको बेहद पसंद हो सकता है लेकिन इस दौरान आपके बच्चों के लिए हेल्थ रिस्क बढ़ जाता है. बच्चों का इम्यून सिस्टम (immune system) युवाओं के मुकाबले थोड़ा कमजोर होता है ऐसे उन्हें ठंग लगने का खतरा ज्यादा रहता हैं.

सर्दी में बच्चों के लिए अपनाएं 4 टिप्स
सर्दी के मौसम में आपको अपने बच्चों की खास देखभाल करनी होगी नहीं तो बीमारियां (diseases) उन्हें नुकसान पहुंचा सकती है, हालांकि अपनी लाइफस्टाइल और कुछ आदतों को बदलकर ऐसे खतरों से बचा जा सकता है.

1. रेग्युलर हाथ धोएं
हाथों के जरिए सबसे ज्यादा इंफेक्शन हो सकता है. बच्चे अमूमन जमीन, सड़क के किनारे या पार्क में खेलते हैं जिसकी वजह से उन्हें संक्रमण के जरिए जुकाम का खतरा होता है. बच्चे अक्सर ठंडे पानी की वजह से हाथ धोने से कतराते हैं इसलिए ये जरूरी है कि माता पिता उन्हें हाथ धोने के लिए प्रेरित करें और बीमारी से बचाएं

2. हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें
हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizers) का इस्तेमाल हालांकि कोरोना वायरस से बचने के लिए आजकल काफी ज्यादा हो रहा है, लेकिन इसके जरिए सर्दियों में होने वाली बीमारियों से भी बचाव किया जा सकता है. मुमकिन है कि बच्चे बार-बार हाथ धोने से परहेज करते हों, ऐसे में सैनिटाइजर रामबाण साबित हो सकता है.

3. बच्चों को मरीजों से दूर रखें
सर्दी में बीमार लोगों के जरिए संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है ऐसे में अगर घर के अंदर कोई रोगी है तो अपने बच्चों को उनसे दूर रखें. अक्सर देखा जाता है बच्चे घर के लोगों से दुलार प्यार पाते हैं और उनके करीब भी जाते हैं, लेकिन बीमारी के वक्त ऐसी किसी भी तरह की आदतों से परहेज करें.

4. वैक्सीनेशन जरूर कराएं
बच्चों को बीमारियों से बचाने की दिशा में वैक्सीनेशन एक बड़ा कदम है. डॉक्टर की सलाह से बच्चों का सही टीकाकरण जरूर कराएं, खासकर जुकाम और फ्लू बीमारी उन्हें काफी नुकसान पहुंचा सकती है, लेकिन वैक्सीन लगवाने से ऐसे खतरे को कम किया जा सकता है.

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें. कोई भी सवाल या परेशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें.