बीमारियों से रहना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये विटामिन और मिनरल, तेजी से बढ़ेगी इम्‍युनिटी

शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए विटामिन और मिनरल / खनिज (Vitamins and minerals) काफी जरूरी होते हैं. ये शरीर में हड्डियों-मांसपेशियों-त्वचा का विकास करते हैं, कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं और इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाए रखते हैं. आमतौर पर शरीर विटामिन और मिनरल्स काफी कम मात्रा में बनाता है, जो कि शरीर की जरूरत के मुताबिक पर्याप्त नहीं होते. इसलिए भोजन से इनकी कमी को पूरा किया जाता है.

शरीर की इम्यूनिटी यानी प्रतिरक्षा प्रणाली कोशिकाओं और प्रोटीन से बनी होती है, जो हमारे शरीर को हानिकारक सूक्ष्मजीवों से बचाने के लिए उनके खिलाफ एंटीबॉडी विकसित करती है. विटामिन और मिनरल्स की महत्वपूर्ण भूमिकाओं में से एक शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाना भी है.

विटामिन और मिनरल्स क्या होते हैं?
विटामिन और मिनरल्स माइक्रोन्यूट्रिएंट कहा जाता है. यह वे होते हैं, जिनकी हमारे शरीर को प्रतिदिन 10 ग्राम से कम आवश्यकता होती है. विटामिन 5 प्रकार के होते हैं. A, B, C, D, E और K. इनमें से विटामिन B के 8 भाग होते हैं, जैसे B1, B2, B3, B5, B6, B7, B9 और B12. यानी कि कुल मिलाकर 13 विटामिन होते हैं. हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के मुताबिक, मिनरल्स मुख्यत: 2 प्रकार के होते हैं. जिनकी शरीर को आवश्यकता होती है.

मेजर मिनरल्स (Major minerals) :
शरीर को इन मिनरल को अधिक मात्रा में जरूरत होती है. इस श्रेणी में कैल्शियम, जिंक, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम और सल्फर शामिल हैं.

ट्रेस मिनरल (Trace minerals) :
यह मिनरल्स भी स्वास्थ्य के लिए मेजर मिनरल के समान ही महत्वपूर्ण हैं, लेकिन इनकी अधिक मात्रा में शरीर को जरूरत नहीं होती. इस श्रेणी में क्रोमियम, सेलेनियम, कॉपर, फ्लोराइड, आयोडीन, आयरन, मैंगनीज, सेलेनियम और जिंक शामिल हैं.

इनमें से कुछ विटामिन और मिनरल इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करते हैं. अगर आप भी COVID-19 के ओमिक्रॉन और अन्य वैरिएंट से सुरक्षित रहना चाहते हैं, तो इम्यूनिटी को मजबूत बढ़ाने के लिए नीचे बताए गए विटामिन और मिनरल का सेवन अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कर सकते हैं. लेकिन ध्यान रथें इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए अच्छी लाइफ स्टाइल, हेल्दी डाइट, एक्सरसाइज, पर्याप्त नींद सभी कारक मिलकर इम्यूनिटी मजबूत करते हैं. इसलिए सभी कारकों पर ध्यान दें.

1. विटामिन सी (Vitamin C)
विटामिन सी, इम्युनिटी बढ़ाने वाले विटामिनों में से एक है. यह शरीर में संक्रमण को रोकने में मदद करता है. खट्टे फलों से लेकर हरी सब्जियों तक में यह विटामिन पाया जाता है. विटामिन सी काफी सारे खाद्य पदार्थों में उपलब्ध होता है, इसलिए जब तक कोई डॉक्टर विटामिन सी सप्लीमेंट लेने की सलाह न दे, तब तक सप्लीमेंट का सेवन न करें. विटामिन सी पालक, गोभी, बेल पेपर, स्प्राउट, स्ट्रॉबेरी, पपीता, ,संतरा, ब्रोकली आदि में पाया जाता है.

2. विटामिन ए (Vitamin A)
विटामिन A हमें संक्रमण से लड़ने में भी मदद करता है और यह शाकाहारी और मांसाहारी दोनों फूड प्रोडक्ट में पाया जाता है. विटामिन A पशु उत्पादों जैसे मांस और दूध में मौजूद होता है और शाकाहारी लोगों के लिए इस विटामिन को पौधों से प्राप्त किया जा सकता है. डार्क हरी सब्जियां, गाजर, शकरकंद, रंगीन सब्जियां, पीले फल, डेयरी प्रोडक्ट, मछली आदि में पाया जाता है.

3. विटामिन ई (Vitamin E)
विटामिन C की तरह, विटामिन E भी शक्तिशाली एंटी-ऑक्सिडेंट होता है, जो आपके शरीर को संक्रमण से लड़ने में मदद करता है. यह महत्वपूर्ण विटामिन शरीर की लगभग 200 जैव रासायनिक प्रतिक्रियाओं का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है, जिसमें इम्यूनिटी को बढ़ाना भी शामिल है. विटामिन E को कई फूड्स से प्राप्त किया जा सकता है. जैसे, बादाम, मूंगफली, पीनट बटर, सरसों के बीज, सूरजमुखी के बीज, कुसुम का तेल, सोयाबीन का तेल, अखरोट, आम आदि.

4. विटामिन डी (Vitamin D)
विटामिन D को इम्यूनिटी बढ़ाने में सबसे अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है. यह सबसे शक्तिशाली पोषक तत्व में से एक है. विटामिन डी का मुख्य सोर्स सूरज की रोशनी है. इसके अलावा इसे सैल्मन मछली, टूना मछली, सार्डिन मछली, दूध, संतरे का रस और अनाज से प्राप्त किया जा सकता है.

5. आयरन (Iron)
आयरन ऑक्सीजन को शरीर की कोशिकाओं तक ले जाने में मदद करता है और प्रतिरक्षा प्रणाली की कई प्रक्रियाओं में एक भूमिका निभाता है. हमारा शरीर विभिन्न पदार्थों से आसानी से आयरन अवशोषित कर सकता है. इसलिए आयरन की कमी को पूरी करने के लिए निम्न चीजों का सेवन कर सकते हैं. चिकन, मीट, फलियां, ब्रोकली, गोभी, अनाज आदि.

6. जिंक (Zinc)
जिंक नई प्रतिरक्षा प्रणाली कोशिकाओं के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होता है. यह ऐसा खनिज है, जो हमारे शरीर में काफी कम मात्रा में पाया जाता है. इसलिए इम्यून सिस्सट को बढ़ावा देने के लिए नियमित रूप से जिंक फूड का सेवन करना चाहिए. यह पौधों और जानवरों दोनों में पाया जाता है. इसे लीन मीट, अंडे, दही, चने, चिकन, दूध, पनीर, काजू, बादाम, मूंगफली आदि से प्राप्त किया जा सकता है.

7. सेलेनियम (Selenium)
सेलेनियम ट्रेस मिनरल है, यानी कि शरीर को इसकी अधिक आवश्यकता नहीं होती, लेकिन इम्यूनिटी पर इसका काफी प्रभाव पड़ता है और यह इम्यूनिटी को बढ़ाने में कुछ हद तक मदद कर सकता है. समुद्री भोजन (टूना, हलिबूट, सार्डिन), लीन मीट, चिकन, अंडे, ओट्स, पालक, मशरूम आदि से इसे प्राप्त किया जा सकता है.

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सिर्फ सामान्‍य सूचना उद्देश्‍य के लिए हैं, हम इसकी सत्‍यता व सटीकता की जांच का दावा नही करते हैं. कोई भी सवाल या परेशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर ले.

खबरें एक नजर में….