अपडेट : छत्तीसगढ़ में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 5 माओवादी ढेर, एक जवान घायल

सुकमा (छत्तीसगढ़) । छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सुकमा एवं दंतेवाड़ा जिले (Sukma and Dantewada districts) के सीमावर्ती क्षेत्रों में नक्सली उन्मूलन अभियान में मंगलवार को पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी। बीजापुर जिले (Bijapur District) में चार माओवादियों (Maoists) को मार गिराया गया। सुकमा जिले के तोंगपाल थाना क्षेत्र अंतर्गत हुई मुठभेड़ (Encounter) में एक नक्सली मारा गया । इनमें सुकमा जिले तथा बीजापुर जिले की एक -एक महिला नक्सली शामिल हैं। इस मुठभेड़ में ग्रेहाउंड्स का एक जवान घायल हो गया। उसे एयर लिफ्ट कर वारंगल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।यह जानकारी बस्तर के आईजी पी. सुंदरराज ने दी।

उन्होंने कहा है कि तेलंगाना एवं छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र के थाना पेरूर, ईलमिड़ी एवं उसूर अंतर्गत पहाड़ी क्षेत्र में तेलंगाना स्टेट कमेटी के सीनियर माओवादी लीडर सुधाकर डीवीसीएम, वेंकटापुरम एसीएम सहित लगभग 50 सशस्त्र माओवादियों की उपस्थिति की सूचना पर सोमवार को तेलंगाना के ग्रेहाउंड्स बल एवं बीजापुर जिले से डीआरजी और सीआरपीएफ के दलों को रवाना किया गया। मंगलवार प्रातः करीब 7 बजे जिला बीजापुर के थाना ईलमिड़ी के ग्राम सेमलडोडी एवं तेलंगाना के थाना पेरूर के ग्राम पेनुगोलू के सीमावर्ती क्षेत्र में सुरक्षा बलों एवं माओवादियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ खत्म होने के बाद सर्चिंग के दौरान एक महिला माओवादी सहित चार माओवादियों के शव बरामद हुए।

आईजी पी. सुंदरराज का कहना है कि जिला दक्षिण बस्तर दन्तेवाड़ा के थाना कटेकल्याण से लगे सरहदी जिला सुकमा, बस्तर के थाना तोंगपाल, टहकवाड़ा क्षेत्र के ग्राम मोरेंगा, जुनापानी, जैमेर पहाड़ी, नंदेल डोंगरी, मार्जुम, धु्रवापारा क्षेत्र में दरभा डीवीसीएम मंगतू, कटेकल्याण एरिया कमेटी सदस्य मंहगू, मुन्नी, प्रदीप, सोमडू के साथ लगभग 25 सशस्त्र माओवादियों की मौजूदगी की सूचना पर नक्सल विरोधी अभियान संचालित किया गया। मंगलवार सुबह जिला दंतेवाड़ा और सुकमा के सीमावर्ती क्षेत्र मार्जुम (थाना कटेकल्याण) एवं प्रतापगिरी (थाना तोंगपाल) के जंगल और पहाड़ी में डीआरजी टीम एवं माओवादियों के बीच मुठभेड़ हुई। यहां महिला माओवादी को एरिया कमेटी की सदस्य मुन्नी को ढेर किया गया। घटनास्थल के आसपास का चप्पा-चप्पा छाना जा रहा है।