प्रेम विवाह करनेवाले जानलें यह जरूरी बात, इस साल मंगल-शुक्र से होगा उनके जीवन में ये खास परिवर्तन

नई दिल्‍ली । ज्‍योतिष शास्‍त्र में जीवन के हर पहलू का संबंध किसी न किसी ग्रह से जोड़ा गया है. संबंधित ग्रह की स्थिति में परिवर्तन और कुंडली में उस ग्रह की स्थिति जिंदगी के उस क्षेत्र पर गहरा असर डालती है. लव लाइफ और मैरिड लाइफ पर असर डालने वाले मंगल ग्रह ने हाल ही में राशि परिवर्तन किया है. मंगल ने धनु राशि में प्रवेश किया है. वहीं प्रेम, भौतिक सुख और सौंदर्य के ग्रह शुक्र पहले से ही इस राशि में वक्री चाल चल रहे हैं. इस तरह धनु राशि में इन 2 ग्रहों की युति इस राशि के जातकों पर सबसे ज्‍यादा असर डालेगी.

धनु राशि में विवाह के कारक मंगल और प्रेम के कारक शुक्र की युति ने रोचक स्थिति पैदा कर दी है. वैसे तो मंगल और शुक्र के बीच उदासीन संबंध है. लेकिन मंगल साहस और जोश का प्रतीक है, वहीं शुक्र ग्रह प्यार का. इस कारण इन दोनों ग्रहों की युति जिंदगी में जोश और ऊर्जा भर देती है. लेकिन ऐसा तब होता है जब कुंडली में ये दोनों ग्रह शुभ स्थिति में हों, वरना इनका असर उल्‍टा मिलता है.

इस बार मामला गड़बड़ है क्‍योंकि शुक्र वक्री चाल चल रहे हैं, जिसे शुभ नहीं माना जाता है. इसके अलावा धनु राशि के स्‍वामी गुरु और शुक्र आपस में शत्रु ग्रह हैं. इस कारण यह युति धनु राशि के जातकों के लिए शुभ नहीं कही जा सकती है. इससे धनु राशि के जातकों की लव लाइफ और मैरिड लाइफ में मुश्किलें बढ़ेंगी. जातकों में गुस्‍सा, आक्रामकता बढ़ेगी, साथ ही सुख-सुविधाएं पाने की इच्‍छा बढ़ेगी.

ऐसा व्‍यवहार लाइफ पार्टनर के साथ रिश्‍ते में मुश्किलें खड़ी करेगा. साथ ही पार्टनर के प्रति ज्‍यादा पजेसिव बनाएगा. शारीरिक आक्रामकता भी बढ़ सकती है. कुछ जातकों के एक्‍स्‍ट्रा मैरिटल अफेयर भी हो सकते हैं. 27 फरवरी तक शुक्र इस राशि में वक्री रहेंगे और धनु राशि के जातकों पर बड़ा असर डालेंगे. इस दौरान धनु राशि के लोगों की कुछ अच्‍छी यात्राएं भी हो सकती हैं. बेहतर होगा कि जातक अपने गुस्‍से पर काबू रखें.