कोरोना का कहर : दिल्ली में बंद किए जाएंगे निजी कार्यालय, संक्रमितों को योग कराएगी केजरीवाल सरकार

नई दिल्ली । दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कई तरह के प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने मंगलवार को राजधानी में निजी कार्यालयों को बंद करने का दिशा निर्देश जारी किया है। डीडीएमए ने रेस्टोरेंट और बार को बंद करने का भी निर्णय लिया है। हालांकि, इन्हें टेकअवे की अनुमति दी गई है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए निजी दफ्तरों को वर्क फ्रॉम होम का पालन करने को कहा गया है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को डीडीएमए ने कोरोना को लेकर एक बैठक की थी। उसके बाद कई तरह के प्रतिबंध लगाए थे। अब मंगलवार को आज डीडीएमए ने अपना संशोधित दिशा निर्देश जारी किया है। इसके तहत निजी दफ्तरों को वर्क फ्रॉम होम मोड़ में जाने को कहा है। दिल्ली में सिर्फ छूट की श्रेणी में आने वाले लोगों को छोड़ कर सभी निजी कार्यालय बंद रहेंगे।

राजधानी में सोमवार को कोरोना के 19 हजार, 166 नये मामले सामने आए थे । उनमें से 17 लोगों की मौत हुई थी। वहीं संक्रमण दर बढ़कर 25 फीसदी तक पहुंच गया था।

कोरोना संक्रमित मरीजों को योग कराएगी दिल्ली सरकार
दिल्ली में होम आइसोलेशन में इलाज ले रहे कोरोना संक्रमित मरीजों को दिल्ली सरकार मुफ्त में योग कराएगी। यह जानकारी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दी है। केजरीवाल ने मंगलवार को मीडिया से कहा कि बुधवार से दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए ऑनलाइन योग सेशन शुरु किया जाएगा। उन्होंने कहा कि योग की इस क्लास में होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना का इलाज ले रहे लोगों को फायदा होगा। केजरीवाल ने कहा कि योगाभ्यास से इम्यूनिटी बढ़ती है। दिल्ली सरकार 40 हजार लोगों को एक साथ ऑनलाइन ”दिल्ली की योगशाला’ से जोड़ने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि एक क्लास मे सिर्फ 15 लोगों को ही शामिल किया जाएगा। यह क्लास प्रतिदिन आठ घंटे संचालित होंगी। मरीज अपने समय और सहूलियत के अनुसार योगाभ्यास कर सकते हैं।

खबरें एक नजर में….