सर्दी-जुकाम से पाना चाहते हैं छुटकारा तो आजमाए ये आसान उपाय

नई दिल्‍ली। जनवरी में कड़ाके की ठंड पड़ती है। ऐसे में ज्यादातर लोग सर्दी-खांसी (cold cough) से परेशान रहते हैं। गिरते तापमान का सबसे ज्यादा असर बच्चों और बुजुर्गों की सेहत पर पड़ता है। वहीं ठंड के मौसम में पड़ने वाली बारिश और मुसीबत लेकर आती है। बर्फीली हवा (icy wind) में जाने पर जरा सी देर में जुकाम होने का खतरा रहता है। वहीं कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन(omicron) से भी लोगों को खतरा है। ओमिक्रोन से संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यानि इस बार जनवरी में लोगों पर ट्रिपल अटैक हो रहा है। इससे बचने के लिए अपनी इम्यूनिटी को मजबूत बनाएं ताकि आपका शरीर बीमारियों (body ailments) की चपेट में आने से बच सके। अगर आप कुछ घरेलू नुस्खे या खान-पान में एहतियात बरतेंगे तो ठंड और कोरोना के प्रकोप से बच सकते हैं। आप रसोई में उपलब्ध इन चीजों को अपनी डाइट में शामिल करें। इससे जुकाम-खांसी की समस्या दूर रहेगी।

जुकाम-खांसी से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे
1- शहद अदरक का रस-
सर्दी होने पर अक्सर आपने लोगों को शहद अदरक(honey ginger) का रस पीते हुए देखा होगा। दादी नानी के कारगर नुस्खों में से एक है ये। अगर आपको जुकाम हो गया है तो आप दिन में 3 बार एक चम्मच अदरक का रस निकालकर इसे शहद में मिलाकर हल्का गर्म करके पीएं। इससे आपका जुकाम 1-2 दिन में ही ठीक हो जाएगा और कफ निकालने में भी आसानी होगी। जुकाम के बाद होने वाली खांसी भी बचा जा सकता है।

2- हल्दी वाला दूध-
ठंड में इम्युनिटी (immunity) बढ़ाने के लिए आपको रोज हल्दी वाला दूध पीना चाहिए। हल्दी का दूध गर्म होता है और इसमें एंटीबायोटिक भी होते हैं इसलिए किसी भी तरह के इंफेक्शन के बचाने में हल्दी का दूध कारगर है। हल्दी वाला दूध पीने से आप सर्दी-खांसी की समस्या से बचे रह सकते हैं।

3- च्वनप्राश-
आयुर्वेद में च्वनप्राश (Chyawanprash) को एक औषधि माना गया है। ठंड के दिनों में आपको रोज रात में सोते वक्त च्वनप्राश के साथ एक गिलास दूध पीना चाहिए। इससे आप कई तरह के इनफेक्शन से बच सकते हैं। च्वनप्राश खाने से सर्दी खांसी में आराम मिलता है। इससे शरीर को भरपूर विटामिन सी मिलता है जो रोगप्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है।

4- स्टीम और गरारे-
सर्दी खांसी से बचने के लिए आपको नियमित रुप से भाप जरूर लेनी चाहिए। भाप लेने से जुकाम में बंद नाक खुलती है और सांस नली की सूजन भी कम होती है। आप सादा पानी से भाप ले सकते हैं या फिर पानी में कुछ ड्रोप टी ट्री ऑयल, यूकेलिप्टस ऑयल, लेमनग्रास ऑयल, लौंग का तेल भी डाल सकते हैं। वहीं गले की खराश और जकड़न की समस्या को दूर करने के लिए आप गरारे जरूर करें।

5- लौंग और तुलसी-
खांसी-जुकाम की समस्या होने पर आप लौंग का सेवन करें। लौंग को पीसकर इसे शहद के साथ मिलाकर दिन में 2-3 बार खा लें। इससे आपको खांसी में काफी राहत मिलेगी। खांसी जुकाम में आप तुलसी अदरक की चाय भी पी सकते हैं। इससे आपको हुत फायदा मिलेगा। आप चाहें तो इस चाय में चीनी की जगह गुड़ भी डाल सकते हैं।

नोट – उपरोक्त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं इन्हें किसी प्रोफेशनल डॉक्टर की सलाह के रूप में न समझें। कोई भी बीमारी या परेंशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।