इस दिन है गुरु गोबिंद सिंह जयंती, जानें उनकी ये खास बातें

नई दिल्‍ली। सिखों के10वें गुरु गोबिंद सिंह की जयंती को देशभर में सिख समुदायों द्वारा खूब धूम-धाम से मनाया जाता है. इस दिन को प्रकाश पर्व के नाम से भी जाना जाता है. इस साल गुरु गोबिंद सिंह की जयंती 9 जनवरी 2022 दिन रविवार के दिन मनाई जाएगी. गुरु गोबिंद सिंह की जयंती के अवसर पर गुरुद्वारों में विशेष आयोजन होते हैं. गुरुद्वारों को मोहक लाइटिंग से सजाया जाता है. भजन, कीर्तन के साथ ही अरदास होती है. प्रकाश पर्व पर गुरबानी का पाठ भी किया जाता है.

गुरु गोबिंद को ज्ञान, सैन्य क्षमता और दूरदृष्टि का सम्मिश्रण माना जाता है. गुरु गोबिंद सिंह जी का पूरा जीवन लोगों की सेवा और सच्चाई के लिए था. उनके विचार और शिक्षाएं आज भी लोगों के लिए प्रेरणा हैं. गुरु गोबिंद सिंह की ये 10 खास बातें यदि आप अपने जीवन में उतार लें तो निश्चित ही आपको सफलता मिलेगी.

1.धरम दी किरत करनी:
अपनी जीविका ईमानदारीपूर्वक काम करते हुए चलाएं.

2. दसवंड देना:
अपनी कमाई का दसवां हिस्सा दान में दे दें.

3. गुरुबानी कंठ करनी:
गुरुबानी को कंठस्थ कर लें.

4. कम करन विच दरीदार नहीं करना:
काम में खूब मेहनत करें और काम को लेकर कोताही न बरतें.

5. धन, जवानी, तै कुल जात दा अभिमान नै करना:
अपनी जवानी, जाति और कुल धर्म को लेकर घमंडी होने से बचें.

6. दुश्मन नाल साम, दाम, भेद, आदिक उपाय वर्तने अते उपरांत युद्ध करना:
दुश्मन से भिड़ने पर पहले साम, दाम, दंड और भेद का सहारा लें, और अंत में ही आमने-सामने के युद्ध में पड़ें.

7. किसी दि निंदा, चुगली, अतै इर्खा नै करना:
किसी की चुगली-निंदा से बचें और किसी से ईर्ष्या करने के बजाय मेहनत करें.

8. परदेसी, लोरवान, दुखी, अपंग, मानुख दि यथाशक्त सेवा करनी:
किसी भी विदेशी नागरिक, दुखी व्यक्ति, विकलांग व जरूरतमंद शख्स की मदद जरूर करें.

9. बचन करकै पालना:
अपने सारे वादों पर खरा उतरने की कोशिश करें.

10. शस्त्र विद्या अतै घोड़े दी सवारी दा अभ्यास करना:
खुद को सुरक्षित रखने के लिए शारीरिक सौष्ठव, हथियार चलाने और घुड़सवारी की प्रैक्टिस जरूर करें. आज के संदर्भ में नियमित व्यायाम जरूर करें.

नोट– उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है। इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी।