दो देशों की सीमाओं में बंटा है होटल का ये कमरा, जानें कहां है

स्विटजरलैंड। इस दुनिया में बहुत सी जगहें, रीति-रिवाज (customs and traditions) और चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें देखकर हम आश्चर्यचकित हो जाते हैं. ऐसा ही एक अनोखा होटल (Switzerland is a unique hotel) है स्विटजरलैंड में. यह होटल दो देशों के बीच बंटा (Hotel divided between two countries) हुआ है. आइए जानते है इसके बारे में सबकुछ. दरअसल दोनों देशों में ये एक ही होटल है. इस होटल का नाम ‘अर्बेज फ्रांको-सुइसे’ (Arbez Franco Suisse Hotel) है. ये होटल आधा फ्रांस (France) में पड़ता है और इसका आधा हिस्सा स्विट्जरलैंड (Switzerland) में आता है.
यह होटल करीब 125 साल पुराना है. हालांकि यह कोई 5 स्टार होटल नहीं है, लेकिन इस 2-स्टार की श्रेणी वाले होटल की खासियत जान कई देशों से लोग यहां रहने के लिए आते हैं. आप यहां पहुंचेंगे तो आपसे पूछा जाएगा कि आप किस देश की संस्कृति का आनंद लेना चाहेंगे, फिर आपको इसी अनुसार सुविधाएं दी जाएंगी.
इस होटल के कुछ कमरे ऐसे हैं कि नींद में लेटे-लेटे आप एक देश से दूसरे देश पहुंच जाएंगे. दरअसल ऐसे कमरों में जो बेड लगे हैं, वह दोनों देशों की सीमा रेखा पर बीचो-बीच पड़ते हैं. ऐसे में आधा बेड फ्रांस में तो आधा स्विट्जरलैंड के हिस्से में आता है. अगर इस बेड पर कपल सो रहे हैं तो एक पार्टनर फ्रांस में तो दूसरा स्विट्जरलैंड में आराम कर रहा होता है.
दो देशों से बॉर्डर टच होने की वजह से इस होटल के 2-2 पते (Address) हैं. एक एड्रेस फ्रांस का तो दूसरा स्विट्जरलैंड का है. होटल के कमरों को 2 बराबर हिस्सों में बांटा गया है. इन कमरों को इस तरह सजाया गया कि आधा हिस्सा फ्रांस में, तो आधा हिस्सा स्विट्जरलैंड में पड़ता है.
इस होटल को दो हिस्सों में होने के पीछे एक वजह है. बता दें कि सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान जब जर्मनी ने फ्रांस पर कब्जा कर लिया था तो उस दौरान फ्रांस के सैनिकों को एक ही भाग में जाने की इजाजत थी. इस होटल का एक हिस्सा स्विट्जरलैंड में भी मौजूद था. फिलहाल इस होटल को चलाने में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती. यहां आने वाले लोगों को दोनों देशों की संस्कृति का आनंद मिलता है.