दिल्‍ली में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, एक दिन में सामने आए 10,665 नए मामलें, 8 मरीजों की मौत

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली (Capital Delhi) में कोरोना की तीसरी लहर शुरू हो गई है। बीते 24 घंटे के दौरान राजधानी में कोरोना के मामले दोगुने हो गए हैं। बुधवार(Wednesday) को दिल्ली में 10,665 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान संक्रमण दर 11.88 फीसदी रही वहीं, आठ मरीजों ने दम तोड़ दिया। बता दें कि गत वर्ष 26 जून के बाद दिल्ली में कोरोना से इतनी ज्यादा मौतें हुई है।

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग(health Department) द्वारा शेयर किए गए आंकड़े के अनुसार राजधानी में कोरोना एक्टिव मामलों का आंकड़ा 23,307 तक पहुंच गया है। वहीं, बीते 24 घंटे में 2239 लोग कोरोना से ठीक हुए। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि दिल्ली में अब तक संक्रमितों (infected) की कुल संख्या 14,74,366 हो गई है। दिल्ली में इस वक्त 11,551 मरीज होम आइसोलेशन में हैं, जबकि 10474 अस्पताल में भर्ती हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, दिल्ली में मंगलवार को 89,724 टेस्ट किए गए हैं। इनमें से 72,145 आरटीपीआर/ सीबीएनएएटी / ट्रूनैट टेस्ट और 17,597 रैपिड एंटीजन टेस्ट किए गए। दिल्ली में अब तक कुल 33,08,7913 जांचें हुई हैं।

दिल्ली में कोरोना के ओमिक्रॉन (omicron) स्वरूप के मामले बढ़ने पर स्वास्थ्यकर्मी भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। दिल्ली के अलग अलग अस्पतालों काम करने वाले 400 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी पिछले एक सप्ताह में कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें डॉक्टरों की संख्या अधिक है। एम्स में काम करने वाले करीब 50 डॉक्टर और 53 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनमें रेजिडेंट डॉक्टरों की संख्या अधिक है। मनोचिकित्सा, एनेस्थेसिया विभाग के एक दर्जन रेजिडेंट डॉक्टरों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया है। वहीं कई नर्सिंग कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित होकर होम आइसोलेशन में हैं।