Sanjay Khan मना रहे अपना 81वां बर्थडे, अभिनेता ने 12 साल की उम्र में हीरो बनने का लिया था फैसला

मुंबई। हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री (Hindi film industry) के दिग्गज एक्टर संजय खान आज अपना 81 वां बर्थडे सेलिब्रेट (Sanjay Khan Birthday) कर रहे हैं. इस खास मौके पर उनके फैंस उनकी लंबी आयु की कामना (Happy Birthday Sanjay Khan) कर कर रहे हैं. 3 जनवरी 1941 को कर्नाटक में जन्मे संजय खान बॉलीवुड के एक बेहतरीन एक्टर, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर हैं. उनका असली नाम शाह अब्बास (Shah Abbas Khan) खान है. संजय खान के बड़े भाई फिरोज खान (Firoz Khan) थे. फिल्म ‘धर्मात्मा’ और ‘कुर्बानी’ के लिए फिरोज खान जाने जाते हैं. वहीं संजय खान के छोटे भाई अकबर खान भी फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े हुए हैं.

संजय खान का शुरुआती सफर
संजय खान को बचपन से ग्लैमर की दुनिया अपनी तरफ आकर्षित करने लगी थी. कहा जाता है कि जब वो महज 12 साल के थे तो उन्होंने राज कपूर (Raj Kapoor) की फिल्म ‘आवारा’ (Awaara) देखी. यह फिल्म उन्हें बहुत अच्छी लगी. उन्होंने फिल्म के कलाकारों से मिलने का फैसला किया. उस वक्त तो वे फिल्म के एक्टर्स से मिल न सके, मगर उस सिनेमा हॉल के मैनेजर, संजय को प्रोजेक्शन रूम में ले गए और वहां उन्हें बताया कि फिल्म कैसे बनती है. उसी वक्त उन्होंने फैसला किया कि वो फिल्मों में अपना करियर बनाएंगे. संजय खान ने सबसे पहले फिल्म ‘टार्जन गोज टू इंडिया’ (Tarzan Goes To India) में बतौर अस्टिटेंट डायरेक्टर काम किया.

संजय खान का फिल्मी करियर
साल 1964 में संजय खान को उस जमाने के मशूहर डायरेक्टर चेतन आनंद की फिल्म ‘हकीकत’ में एक छोटा सा किरदार निभाने का मौका मिला. इसी साल उनकी एक और फिल्म ‘दोस्ती’(Dosti) रिलीज हुई. यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई. इसके बाद उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उनकी प्रमुख फिल्में हैं- ‘दस लाख’, ‘दिल्लगी’, ‘बेटी’, ‘अभिलाषा’, ‘एक फूल दो माली’, ‘इंतकाम’, ‘उपासना’, ‘हसीनों का देवता’, ‘मेला’, ‘चोरी चोरी’ और ‘काला धंधा गोरे लोग.’

जीनत अमान के साथ अफेयर के चर्चे
संजय खान का नाम एक वक्त जीनत अमान के साथ जुड़ा था. दोनों के बीच प्यार फिल्म ‘अबदुल्ला’ के सेट पर शुरू हुआ था. कहा जाता है कि दोनों ने साल 1978 में जैसलमेर में शादी कर ली थी, जो एक साल भी नहीं चल पाई. खबरों के मुताबिक जीनत अमान ने संजय खान पर कई आरोप लगाए थे. 1980 में संजय ने एक फाइव स्टार होटल में जीनत को बहुत मारा था.

जानलेवा हादसे के हुए थे शिकार
साल 1990 में प्रसारित सीरियल ‘द स्वॉर्ड ऑफ टीपू सुल्तान’ में संजय खान ने मुख्य भूमिका निभाई थी. इस सीरियल का निर्देशन उन्होंने खुद किया था. सीरियल टीपू सुल्तान की शूटिंग के वक्त संजय खान के साथ गंभीर हादसा हो गया था जिसमें वह बाल बाल बचे थे. आठ फरवरी 1990 को टीपू सुल्तान के सेट पर संजय खान बुरी तरह झुलस गए थे. जब सेट पर आग लगी तब वहां 40 लोग मौजूद थे. उनका शरीर 65 फीसदी तक जल गया था. इसकी गंभीरता का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि 13 दिन में उनकी 73 सर्जरी हुई थी.