यूपी चुनाव से बढ़ सकता है कोरोना का केस

भारत में कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं। और भी यूपी में विधानसभा चुनाव भी है। जिसके कारण बड़े-बड़े नेता बड़ी बड़ी रैलियों रोड शो को संबोधित करते हैं। ऐसे में कोरोना का खतरा और भी बढ़ जाता है क्योंकि लोग काफी मात्रा में नेताओं को सुनने के लिए पहुंचते हैं जिसके कारण भीड़ बढ़ जाती है।

एक तरफ 2 गज दूरी और माक्स है जरूरी का नारा है और दूसरी तरफ खुद बड़े बड़ी रैलियों को संबोधित कर लोगों की भीड़ जुट आते हैं। भारत में ओमीक्रोन का भी खतरा दिन पतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। जिसके कारण कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। ऐसे में यह भी हो सकता है कि लॉकडाउन की भी स्थिति आ जाए क्योंकि कोरोना का मामला तेजी से बढ़ रहा है।

इस कोरोना के बढ़ते मामले को देख इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग से भी अपील किया कि चुनाव को आगे बढ़ाने के लिए पर इस पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

नीति आयोग के हेल्थ इंडेक्स के रिपोर्ट के अनुसार यूपी  स्वास्थ्य व्यवस्था में सबसे निचले स्थान पर था जिसके कारण खतरा और भी बढ़ने का डर लगता है।

यूपी सबसे अधिक जनसंख्या वाला प्रदेश है जिसके कारण इस समय चुनाव कराना एक बहुत बड़ा रिक्स हो सकता है। लोग भी सावधानी नहीं रख रहे हैं लगता है जैसे कोरोना चला गया है पर कोरोना का दिन प्रतिदिन नया वेरिएंट आ  रहा है ऐसे में हमारा भी कर्तव्य बनता है सचेत रहे। और माक्स हमेशा लगाकर रखें ताकि कोरोना से लड़ने में हम सफल हो पाए।

खबरें एक नजर में….